अगले महीने से 57 शहरों में पिंकिश फाउंडेशन खोलेगी सेनेटरी पैड बैंक

सेहत हरियाणा विशेष

अक्षय कुमार की मूवी पैड-मैन अगले महीने रिलीज होने वाली है। पैड-मैन मूवी से इस मुद्दे पर अब खुलकर बात होने लगी है। उन दिनों यानि मासिक धर्म और स्वच्छता को लेकर जागरुकता दिखने लगी है। ऐसे में जरूरतमंद महिलाओं की जिंदगी संवारने के लिए पिंकिश फाउंडेशन आगे आई है।

पिंकिश फाउंडेशन देशभर में मासिक धर्म के समय स्वच्छता के संदेश को हर महिला तक पहुंचाने की कोशिश कर रहा है। पैड बैंक बनाकर शहर की आर्थिक रूप से सक्षम महिलाओं से पैड कलेक्ट करने का काम करेगा। जिन्हें जरूरतमंद महिलाओं में बांटा जाएगा। हर शहर में मेन ऑफिस खोला जाएगा, जहां पैड जमा और फिर जरूरत के मुताबिक इलाकों में भेजे जाएंगे। सहायक कार्यालय भी बनेंगे, जो पैड जमा करने में मदद करेंगे।

सात माह पहले बनी ये फाउंडेशन देश के 57 शहरों में पैड बैंक बनाने जा रही है। इस बैंक से जरूरतमंद महिलाएं सेनेटरी पैड मुफ्त में पा सकेंगी। पिंकिश ग्रुप से अब तक 1.35 लाख महिलाएं जुड़ चुकी हैं, जिसका हेड ऑफिस दिल्ली में है। इस फाउंडेशन की शुरुआत 11वीं की छात्रा के एक आइडिया से हुई। पिंकिश फाउंडेशन के संस्थापक गाजियाबाद के इंदिरापुरम निवासी इंजीनियर अरुण गुप्ता बताते हैं कि पैड बैंक बनाने का आइडिया उनकी बेटी ख्याति गुप्ता ने दिया था।

एक दिन ख्याति ने घर की नौकरानी से सेनेटरी पैड के बारे में बात की, तो उसे इसकी कोई जानकारी ही नहीं थी। ख्याति ने अपने पापा को आइडिया दिया कि हाइजीन को लेकर ऐसी महिलाओं की मदद के लिए कुछ काम करना चाहिए। 17 साल तक निजी कंपनी में बतौर इंजीनियर की नौकरी करने के बाद अरुण गुप्ता ने अब पिछले 7 महीने से खुद को इसी मुहिम के प्रति समर्पित कर दिया है। सोशल मीडिया पर ग्रुप बनाकर महिलाओं को उससे जोड़ा। ऐसे सभी शहरों में ग्रुप बनते चले गए। अब फरवरी में 57 शहरों में पैड बैंक शुरू हो जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *