आस्था कुंज में फिर सामने आई बड़ी लापरवाही, खिडक़ी तोडक़र भागे 5 किशोर

अनहोनी हरियाणा विशेष

रेवाड़ी के आस्था कुंज बाल आश्रम से देर रात पांच किशोर खिड़की तोड़कर भाग निकले। वहां पर मौजूद कर्मचारियों की माने तो पहले तो पांचों ने योजना बनाई है, उसके बाद खिड़की को तोड़ा गया है और बाद में पांचों मौका मिलते ही फरार हो गए। पूरी रात बीतने के बाद भी वहां पर मौजूद कर्मचारियों को इसकी भनक तक नहीं लगी।


सुबह जब कमरें में देखा तो पांचों ही किशोर नदारद मिले जिसके बाद उच्चाधिकारियों को सूचना दी गई. वहीं पुलिस को भी मामले की जानकारी दी गई है. लेकिन अभी तक पांचों किशोरों का कोई सुराग नहीं लगा है।


बाल कल्याण परिषद के आधीन चल रहे आल संरक्षण गृह में बीती रात ऐसा ही कुछ हुआ और पूरी रात बीतने के बावजूद वहां मौजूद किसी को भी इसकी खबर तक नहीं लगी। जी हां, दरअसल हम बात कर रहे हैं रेवाड़ी के आस्था कुंज की, जहां बेसहारा बच्चों के लिए बाल संरक्षण गृह बनाया हुआ है। यहां रह रहे 5 बच्चों ने बीती रात योजना बनाई और खिडक़ी का सरिया तोडक़र वहां से फरार हो गए।


अधिकारियों की मानें तो भागने वाले बच्चों में 4 बच्चे करीब 6-7 माह से यहां रह रहे थे। इनमें दो दिन पूर्व ही एक बच्चे के पिता ने यहां आकर उसे ले जाने से मना भी कर दिया था। भागने वाले सभी बच्चों की उम्र 10 से 12 साल बताई गई है।


आपको बता दें कि आस्था कुंज में हुई यह कोई पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी इस तरह के कई मामले समने आ चुके हैं। मगर कुछ भी हो, ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि आखिर कहां चले गए सेफ्टी के इंतजाम और जब रात को बच्चे भागे तो रात्रि में मौजूद स्टाफ क्या कर रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *