Home बड़ी ख़बरें ‘खाप’ नहीं दे सकती दो वयस्कों की शादी में दखल – सुप्रीम कोर्ट

‘खाप’ नहीं दे सकती दो वयस्कों की शादी में दखल – सुप्रीम कोर्ट

0
0Shares

सुप्रीम कोर्ट ने एक बार फिर खाप पंचायतों को कड़ी फटकार लगाई है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि बालिग लड़के- लड़की की शादी के फैसले में कोई भी दखल नहीं दे सकता है।

खाप पंचायत मामलों में प्रेमी जोड़ों की सुरक्षा के संबंध में केंद्र सरकार और याचिकाकर्ताओं को अगली बार बेहतर सुझाव के साथ आने का निर्देश भी दिया। इस मामले में अगली सुनवाई 16 फरवरी को है।

चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने कहा कि जब दो वयस्क शादी कर रहें हों तो किसी तीसरे को इस पर बोलने का अधिकार नहीं है।प्रेम विवाह करने वाले जोड़ों को पूरी सुरक्षा भी मिलनी चाहिए।

माननीय उच्चतम न्यायालय का फैसला सही है, पर जहां जबरन धर्म परिवर्तन करवाकर एक साजिश के तहत इस तरह के विवाह करवाए जाते हैं, उन पर कुछ-न-कुछ नियंत्रण तो होना चाहिए। चीफ जस्टिस ने कहा कि चाहें पैरेंट्स हों, समाज हो या फिर कोई और हो, कोई भी ऐसे मामले में दखल नहीं दे सकता है।

Load More Related Articles
Load More By admin
Load More In बड़ी ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

पानीपत में फूटा कोरोना बम, शनिवार को 7 पॉजिटिव आए सामने, चार बच्चे शामिल

Yuva Haryana, Panipat हरियाणा के …