छात्रों की झड़प में DSP सिध्दू ने खुद को मारी गोली, मौत से मचा हड़कंप

अनहोनी बड़ी ख़बरें

पीयू के जैतो स्थित कैंपस में सोमवार सुबह पुलिस प्रशासन के खिलाफ चल रहे छात्रों व कुछ अन्य संगठनों के धरने के दौरान डीएसपी बलजिंदर सिंह सिध्दू ने सर्विस पिस्टल से कनपटी पर गोली मार ली। उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

गोली उनकी कनपटी को चीरती हुई पास खड़े सीआईए इंचार्ज के गनमैन लाल सिंह की आंख को छूती हुई निकल गई। वह भी गंभीर है। पुलिस का कहना है कि सिध्दू ने पक्षपात के आरोपों से आहत होकर खुद को गोली मार ली। पुलीस ने आज्ञात लोगों के खिलाफ धारा-306 के तहत आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज किया है।

आरोप है कि कुछ दिन पहले पेट्रोलिंग कर रहे एसएचओ गुरमीत सिंह ने कॉलेज के दो लड़कों और एक लड़की की पिटाई कर दी थी। छात्र नेता गुरजिंदर विद्यार्थी और मलकीत फौजी ने पिटाई की वीडियो व्हाट्सएप पर वायरल कर दी। पीड़ित छात्रों ने डीएसपी को शिकायत दी। इस दौरान कारवाई न होने से खफा छात्रों ने संघर्ष कर दिया। जिस दौरान डीएसपी ने खुद को गोली मार ली।

बलजिंदर सिंह पटियाला के आजाद नगर इलाके के रहने वाले थे। वह 1993 में एएसआई भर्ती हुए थे। करीब 6 माह पहले ही वह डीएसपी बने थे। पहली पोस्टिंग जैतो में हुई थी। परिवार में उनके पिता रिटायर्ड आर्मी अफसर देव सिंह, माता चरणजीत कौर, पत्नी कुलविंदर कौर और एक बेटा है। उनका बेटा अमेरिका में पढ़ाई कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *