जल्द भरे जाएंगे सीबीएलयू में 610 शैक्षणिक व गैर शैक्षणिक पद, दिलाई जाएगी राष्ट्रीय पहचान

हरियाणा विशेष

वर्ष 2014 में शुरू हुआ भिवानी का चौ. बंसीलाल विश्वविद्यालय जल्द ही अपनी राष्ट्रीय पहचान बना लेगा। इसके लिए विश्वविद्यालय यूजीसी के द्वारा भी मापदंडों को पूरा करने का काम कर रहा है। यह बात चौ. बंसीलाल विश्वविद्यालय के नए उपकुलपति प्रो. राजकुमार मित्तल ने भिवानी में पद्भार संभालते हुए कही।

बंसीलाल विश्वविद्यालय के नए उपकुलपति ने दावा किया कि विद्यार्थियों का हुनर निखारने के लिए बंसीलाल विश्वविद्यालय छात्र-छात्राओं को बेहतरीन मंच देगा। इसके साथ-साथ नामी कम्पनियों का सहयोग लिया जाएगा। वही समय-समय पर विश्व की प्रमुख हस्तियों का मार्गदर्शन लिया जाएगा।

समाज की समस्याओं के समाधान के लिए विद्यार्थियों की भागीदारी को सुनिश्चित करने का काम भी विश्वविद्यालय करेगा। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय को स्थापित हुए अभी मात्र 3 वर्ष हुए है।

जल्द ही इसका अपना कैम्पस बनकर तैयार हो जाएगा, जिसमें शैक्षणिक गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा। विश्वविद्यालय में 600 के लगभग रेगुलर पदों की भर्ती अगले दो वर्षो में पूरी कर ली जाएगी।

जिसमें गैर शैक्षिक स्टाफ के 500 पद व शैक्षणिक स्टाफ के 110 पद चिह्नित किए जा चुके है। उन्होंने कहा कि अगले दो साल में न केवल विश्वविद्यालय का अपना कैम्पस, बल्कि नए कोर्सेस, आधुनियक प्रयोगशालाएं एवं संस्कारयुक्त बेहतर शिक्षा देने के लिए बंसीलाल विश्वविद्यालय आगे बढ़ेगा।

उन्होंने कहा कि वे अपने कार्य को बाखूबी निभाते हुए विश्वविद्यालय को राष्ट्रीय पहचान दिलाने का काम करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *