पेट में कृमियों को मारने के लिए खिलाई थी दवाई, 40 बच्चे पड़े बीमार।

अनहोनी हरियाणा

पलवल के प्रोग्रेसिव पब्लिक स्कूल के 40 छात्रों की तबीयत अचानक खऱाब हो गई। आनन-फानन में बच्चों को अस्पताल ले जाया गया। जहां पर बच्चों का इलाज किया जा रहा है।

बताया जा रहा है कि बच्चों को पेट में पैदा होने वाली कृमियों को मारी वाली गोलियां खिलाई गई थी, लेकिन देखते ही देखते स्कूल के 40 बच्चों की हालत बिगड़ गई।

एल्वेंडाजोल की गोली 1 से 19 साल तक युवाओं के पेट में पैदा होने वाले कृमियों को मारने के लिए दी जाती है। बच्चों के इन गोलियों के सेवन करते ही चक्कर के साथ उल्टियां आने लगी।

CMO डाक्टर बीर सिंह सहरावत और पीएमओ डाक्टर संजय कुमार के नेतृत्व में तुरंत विधार्थियों को दवाईयां दी गई। करीब दो घंटे बाद तबियत ठीक होने पर अस्पताल से सभी विधार्थियों को छुट्टी दे दी गई।

स्कूल में बच्चों को खिलाई थी कृमि मारने वाली गोलियां, 40 बच्चे पड़े बीमार

पेट में कृमियों को मारने के लिए खिलाई थी दवाई, 40 बच्चे पड़े बीमार—-पलवल के प्रोग्रेसिव पब्लिक स्कूल के 40 छात्रों की तबीयत अचानक खऱाब हो गई। आनन-फानन में बच्चों को अस्पताल ले जाया गया। जहां पर बच्चों का इलाज किया जा रहा है।बताया जा रहा है कि बच्चों को पेट में पैदा होने वाली कृमियों को मारी वाली गोलियां खिलाई गई थी, लेकिन देखते ही देखते स्कूल के 40 बच्चों की हालत बिगड़ गई।एल्वेंडाजोल की गोली 1 से 19 साल तक युवाओं के पेट में पैदा होने वाले कृमियों को मारने के लिए दी जाती है। बच्चों के इन गोलियों के सेवन करते ही चक्कर के साथ उल्टियां आने लगी।सीएमओ डाक्टर बीर सिंह सहरावत और पीएमओ डाक्टर संजय कुमार के नेतृत्व में तुरंत विधार्थियों को दवाईयां दी गई। करीब दो घंटे बाद तबियत ठीक होने पर अस्पताल से सभी विधार्थियों को छुट्टी दे दी गई।

Posted by Yuva Haryana on Saturday, 10 February 2018

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *