प्रदेश के तीन केंद्रीय मंत्री, तब भी हरियाणा की झोली खाली #BUDGET2018

Breaking बड़ी ख़बरें राजनीति

आम बजट का ऐलान हो चुका है। जेटली के पिटारे से सब के लिए कुछ न कुछ निकला है पर हरियाणा की झोली इस बार खाली रही। वो भी जब केंद्र में तीन कद्दावर नेता राव इंद्रजीत सिंह, बिरेंन्द्र सिंह, कृष्णपाल गुर्जर हरियाणा के है, उसके बावजूद भी प्रदेश के हिस्से में कोई बड़ा प्रोजेक्ट नहीं आया है।


हालांकि पराली की आंच दिल्ली तक न पहुंचे इसलिए केंद्र सरकार ने पराली के लिए तो बजट में प्रावधान कर दिया है, लेकिन हरियाणा में किसी बड़े प्रोजेक्ट की घोषणा नहीं की है। सबसे ज्यादा जवाबदेही केंद्रीय मंत्रियों की होगी जो आगामी लोकसभा चुनाव में वोट के लिए जनता के बीच जाएंगे।


बजट में सर्विस क्लास को भी कोई खास राहत नहीं मिल सकी है। इन सभी बातों की बीच मुख्यमंत्री मनोहर लाल और उनके मंत्रिमंडल ने बजट की तारीफ की है। लेकिन बजट में केंद्र सरकार ने जिन परियोजनाओं में खर्च करने के लिए कहा है, उनमें एग्रीकल्चर सेक्टर भी है। इस घोषणा का लाभ हरियाणा को मिल सकता है।


जेटली ने अपने बजट में आलू, प्याज और टमाटर की फसल के लिए ऑपरेशन ग्रीन शुरू करने और MSP निर्धारित करने का एलान किया है। इसके लिए 500 करोड़ रुपये का प्रावधान है। हालांकि भावांतर फसल योजना के नाम पर हरियाणा इसमें पहले ही पहल कर चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *