बढ़ते विवादों के चलते भाजपा ने बदली रणनीति, अब रैली में बाईक के बजाए अपनी गाड़ियों से जाएंगे

राजनीति हरियाणा

जींद रैली को लेकर विवाद है कि थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। सरकार इस रैली को सफल बनाने के लिए अपना हर कदम सभंल कर रख रही है। बता दें कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की 15 फरवरी को जींद रैली के दौरान जाटों द्वारा किए जा रहे विरोध को देखते हुए सरकार ने अपनी रणनीति ही बदल डाली है। पहली बार राज्य में मोटरसाइकिल रैली कर रही भाजपा ने अब फैसला लिया है कि पार्टी के विधायक, मंत्री और सांसद मोटरसाइकिल की बजाय अपनी गाड़ियों से जींद पहुंचेगें।

इससे पहलें इन सभी पार्टी वर्करों और आम लोगों की तरह बाइक पर ही जाने का कार्यक्रम था। पार्टी में यह भी रणनीति बनाई है कि कुछ जिलों के पार्टी वर्करों और मोटरसाइकिल सवारों को एक दिन पहले जींद पहुंचाया जाएगा। जींद व जींद के लगते जिलों के पदाधिकारी व मोटरसाइकिल रैली लेकर पहुंचने वाले नेता 15 को सीधे रैली स्थल पर पहुंचेंगे। पार्टी, विधायक, सांसदों व मंत्रियों के लिए यह तय किया गया है कि वे रैली स्थान से कुछ दूरी पर अपनी गाड़ियों से उतर कर बाइक चलाते हुए रैली स्थल पर जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *