वैज्ञानिको ने कहा भैंस का दूध है ज्यादा लाभकारी, मगर सरकार को गाय पंसद है

Breaking खेत-खलिहान हरियाणा विशेष

देश में गाय की रक्षा और रखरखाव के लेकर काफी हो-हल्ला रहता है। सरकार चाहे केंद्र की हो या हरियाणा की, गायों के संर्वधन को लेकर अपनी पीठ ठोकती रही है, लेकिन सेहत के फायदेमंद की बात करे तो भैंस का दूध गाय के दूध से ज्यादा उत्तम है। यह दावा कोई पार्टी नहीं बल्कि केंद्रीय कृषि मंत्रालय के अधीन आने वाला भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के हिसार स्थित केंद्रीय भैंस अनुसंधान संस्थान के वैज्ञानिकों ने की अपनी शौध पर कहा है।

भैंस के दूध को A-1 या A-2 की कसौटी पर नापें या पोषकता के पैमाने पर, या ह्रदय रोग और कैल्सियम के तौर पर, हर तरह से भैंस का दूध गाय के से बेहतर है। यही नहीं किसानो की आय दौगुनी करने में भी भैंस, गाय से बेहतर है।

संस्थान के निदेशक डॉ. इंद्रजीत सिंह ने कहा है कि हम यह सब रिसर्च के आधार पर कह रहे है। तो वहीं CIRB के वैज्ञानिक डॉ अशोक बुरा का भी यही कहना है कि भैंस का दूध ह्दय रोगियों के लिए बेहतर इसलिए है क्योंकि इसमे प्रोटीन बीटा कौसीन होता है।

बता दें कि देश में A-1 या A-2 के दूध का कोई वैज्ञानिक शौध नहीं है जो यह बता सके कि कौन सा दूध फायदेमंद है औऱ कौन सा हानिकारक है। लेकिन विदेशो में हुए शौध की माने जो A-1 दूध हानिकारक है और A-2 फायदेमंद है।लेकिन भारत में ये दोनो सिर्फ गाय के दूध में होते है। भैंस का दूध केवल A-2 होता है, जो फायदेमंद है।

गाय के दूध से लाभकारी क्यूँ है भैंस का दूध-

गाय के दूध में 87.80 ग्राम पानी होता है, जबकि भैंस के दूध में 81.10 ग्राम पानी है।
गाय के दूध में 3.2 ग्राम प्रोटीन, तो भैंस के दूध में 4.5 ग्राम प्रोटीन होता है।
गाय के दूध में 3.9 ग्राम फैट, तो भैंस के दूध में 8 ग्राम फैट होता है।
गाय के दूध में 14 मिलीग्राम कोलेस्ट्रॉल, तो भैंस के दूध में 8 मिलीग्राम कोलेस्ट्रॉल होता है।
गाय के दूध में 120 मिलीग्राम केल्सियम, तो तो भैंस के दूध में 195 मिलीग्राम केल्सियम होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *