सर्दियों में स्वस्थ रहने के लिए अपनाएं ये तरीके

सेहत

कुछ आसान से उपाय अपनाकर हम खुद को ठंड से सुरक्षित और स्वस्थ‍ रख सकते हैं। आइए ऐसी ही कुछ बातों को ध्यायन में रखें।
सर्दियों में स्वस्थ रहने के उपाय
सर्दियों में सेहत का जरा ज्याादा ही खयाल रखना पड़ता है। तापमान कम होने के कारण शारीरिक क्रियाशीलता भी धीमी हो जाती है। लेकिन कुछ आसान से उपाय अपनाकर हम खुद को गर्म और स्वस्थ रख सकते हैं। आइए ऐसी ही कुछ बातों ध्या न में रखें..
कैफीनरहित पेय पिएं

कॉफी का सेवन करें

सर्दियों में गर्म चाय या कॉफी पीने से हमें कुछ देर के लिए गर्मी महसूस होती है। लेकिन इसमें मौजूद कैफीन शरीर की उष्माक को कम कर देता है। इसलिए बेहतर होगा कि इसके स्थािन पर कैफीनरहित या हर्बल पेय का सेवन करें। इनमें गर्म रखने के प्राकृतिक गुण होते हैं।

रजाई के अंदर करें व्यायाम
बिस्तकर से निकलने से पहले कुछ मामूली व्यायाम कर आप स्वुयं को बाहर आने पर भी गर्म रख सकते हैं। इसके लिए अपने पैरों की अंगुलियों को 20 बार ऊपर नीचें करें। फिर दोनों दिशाओं में पैरों के टखनों को गोलाकार घुमाएं। इससे खून का प्रवाह बढ़ेगा व आप गर्म महसूस करेंगे।

खूब प्रोटीन खाएं
प्रोटीन के हजम होने पर शरीर का तापमान बढ़ जाता है। इसे पचाने के लिए शरीर को बहुत मेहनत करनी पड़ती है, जिस कारण आपको ज्याादा ऊर्जा की जरूरत पड़ती है। इससे ऊष्मा पैदा होती है और जो हमें गर्म रखती है। इसके लिए आप दूध और इससे बनी चीजों का नियमित रूप से सेवन करें।
अच्छीे बातों को याद करें

पुराने लम्हों को याद करके खुश रह सकते हैं

विभिन्न शोधों से यह बात स्पष्ट होती है कि पुराने लम्हों। को याद करके भी आप खुद को गर्म रख सकते हैं। ऐसा करने से शरीर का तापमान तो बढ़ता ही है साथ ही आपकी ठंड बर्दाश्त‍ करने की क्षमता भी बढ़ जाती है।
सर्दियों के कपड़े पहैनें
सर्दियों की शुरूआत में कभी सर्दी कम तो कभी ज्यादा लगती है। इसलिए कपड़े पहनने में लापरवाही न करें। सर्दी कम रहने पर भी गर्म कपड़ों से परहेज न करें। ठंड का प्रकोप सबसे पहले सिर, हाथों व पैरों पर होता है, इसलिए शरीर को ढंक कर रखें
धूप का भरपूर आनंद लें
सर्दियों की धूप सुहावनी होती है और इससे हमें विटामिन डी भी भरपूर मात्रा में मिलता है। धूप से सुस्त पड़ी त्वचा को ऊर्जावान आहार मिलता है। सर्दियों में सुबह उगते हुए सूर्य की किरणों का भरपूर आनन्द लेना न भूलें। इससे जहां मन को सुकून मिलता है वहीं शरीर को प्राकृतिक ऊर्जा मिलती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *