हिसार के छोरे ने पार की सबसे मुश्किल साईकल यात्रा, तय समय में पूरा किया मिशन

खेल हरियाणा विशेष

देश की पहली व सबसे मुश्किल 1400 किलोमीटर की इंडो-नेपाल ट्रांस बॉर्डर राइड में देश के अलग-अलग राज्यों से 23 साइकलिस्टों ने हिस्सा लिया था। इसमें हिसार के निशांत मेहता ने 108 घंटों में राइड पूरी करके सफलता पाई है।

यह राइड 26 जनवरी को नई दिल्ली से शुरू होकर गाजियाबाद, बरेली होते हुए भारत के आखिरी कस्बे बनवसा से नेपाल में तीन वाइल्ड लाइफ सेंचुरी पार करते हुए नेपाल में लम्ही तक 700 किलोमीटर जाकर वापिस 1400 किलोमीटर की नई दिल्ली तक की राइड थी।

इस प्रतियोगिता में भाग लेने वाले 23 साइकिलिस्टों में चेन्नई, केरल व पंजाब से 4-4, मुंबई से 1, सतना से 7, दिल्ली, बंगलुरु और हरियाणा से 1-1 साइकिलिस्ट शामिल थे।

यह भारत की अब तक की सबसे कठिन साइकिल राइड थी, जिसमें करीब 14 हजार 500 फुट की ऊंचाई और लगभग 80 किलोमीटर का घना जंगल पार करना पड़ता है। इस कठिनाई को देखते हुए घायल होने के कारण चार राइडर अभियान बीच में ही छोड़ गए जबकि कुछ राइडर तय समय में अभियान पूरा नहीं कर पाए।

हिसार के निशांत मेहता ने सभी बाधाओं को पार करते हुए इस राइड को तय समय में सफलतापूर्वक पूरा किया। इस सफलता पर राइड के आयोजक डॉ. चिरो मित्रा और दिल्ली रेंडोनर्स ने उन्हें मेडल देकर सम्मानित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *