गुरुग्राम में फिर एक मरीज की स्वाइन फ्लू के कारण हुई मौत, अब तक 54 मामले आए सामने

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Manu Mehta, Yuva Haryana

Gurugram, 12 Feb, 2019

दिल्ली- राजस्थान समेत गुरुग्राम भी स्वाइन फ्लू की चपेट में है। एच1एन1 इन्फ्लूएंजा के चलते गुरुग्राम में एक और मरीज की मौत दर्ज की गई है। बता दें कि गुरुग्राम में एच1एन1 इन्फ्लूएंजा के चलते तीन लोगों की मौत हो चुकी है। साथ ही 54 लोगों में स्वाइन फ्लू के वायरस की पुष्टी हुई है।

वहीं करीब 208 संदिग्ध मामले सामने आ चुके है। हालांकि सीएमओ का कहना है कि ये मामले पूरी तरह से स्वाइन फ्लू का वायरस नहीं, बल्कि एच1एन1 इन्फ्लूएंजा के मामले हैं। जो कि एक तरह से मौसमी बीमारी है। ऐसे में लोगों को घबराने की नहीं, बस सावधानी बरतने की जरूरत है।

सीएमओ ने बताया कि तीनों मरीज पहले से बीमारियों से पीड़ित चल रहे थे और तीनों की उम्र भी 40 से 70 के बीच बताई जा रही है। ऐसे में एच1एन1 इन्फ्लूएंजा होने से उनका शरीर और कमजोर हो गया, जिसकी वजह से उनकी मौत हो गई। दो मरीज मेदांता और एक फोर्टिस में अपना इलाज करवा रहे थे।

बता दें कि एच1एन1 इन्फ्लूएंजा स्वाइन फ्लू का ही सबटाइप है। स्वाइन फ्लू को 1919 में महामारी के स्तर पर मान्यता प्राप्त हुई थी और ये अभी भी एक मौसमी फ़्लू वायरस के रूप में फैलता है। स्वाइनफ्लू का कारण H1N1 वायरस स्ट्रेन है, जिसकी शुरुआत सूअरों से होती है। बुखार, खांसी, गले में खराश, ठंड लगना, कमजोरी और शरीर में दर्द होना इसके लक्षणों में शामिल हैं। गौरतलब है कि बच्चों, गर्भवती महिलाओं और बुजुर्गों में इस बीमारी से गंभीर संक्रमण का खतरा रहता है। ऐसे में ज़रुरी है कि लोग इस तरह लक्षणों को नजरअंदाज ना करें।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *