टोहाना के समैण गांव में पशुओं की बीमारी से दहशत, अब तक 100 से ज्यादा पशुओं की मौत

Breaking खेत-खलिहान बड़ी ख़बरें हरियाणा

 

टोहाना के सबसे बड़े गांव समैण में इन दिनों पशुओं की बीमारी से पूरा गांव परेशान है. यहा पर अब तक करीब 100 पशुओं की मौत हो चुकी है।

 

ग्रामीण बताते हैं कि पिछले पांच दिनों से पशुओं की मौत का सिलसिला जारी है, लेकिन पशु पालन विभाग कुंभकर्णी नींद सोये रहा, अब जाकर कहीं विभाग के अधिकारियों ने सुध ली है।

बताया जा रहा है कि विभाग के अधिकारियों ने गांव में पशुओं की जांच तो की है लेकिन अभी तक बीमारी उनकी पकड़ में भी नहीं है।

ग्रामीण अशोक कुमार दुखी मन से बताते हैं कि अब तक 100 पशुओं की मौत हो चुकी है. किसानों पर तो ऐसे ही बहुत कर्ज है, अगर उनके घर से पशु मर जाता है तो उनको तो और भी बहुत ज्यादा परेशानी हो जाती है।

ग्रामीण रोहताश कुमार बताते हैं कि असल बीमारी का तो अभी तक डॉक्टरों को भी पता नहीं है, लेकिन मुंहखुर नामक बीमारी बता रहे हैं. आरोप लगाया कि विभाग के अधिकारी पहले जागरुक नहीं करते हैं ।

किसान हरिराम ने बताया कि अब तक कोई सरकारी दवाई नहीं दी, बाजार से 45 हजार रुपये की दवाई वो अपने पशुओं के लिए ला चुके हैं, लेकिन पशु फिर भी नहीं बचा।

पशु पालन विभाग के अधिकारी धर्मबीर सिंह ने बताया कि पशुओं के खून के सैंपल यूनिवर्सिटी में भेजे गए हैं. कृषि विश्वविद्यालय से भी टीम आई हुई है। अभी 72 घंटों में इसकी रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा।

 

 

फिलहाल ग्रामीणों को पशुओं की बीमारी की रोकथाम के लिए कोई ठोस इलाज नहीं मिला है , लेकिन सरकार के लिए यह गंभीर मुद्दा है, क्योंकि आज इस महंगाई के दौर में अगर एक पशु भी जमीदार के घर से मर जाता है तो उसको एक लाख रुपये तक का नुकसान हो रहा है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *