11 मेडिकल कॉलेज चल रहे हैं हरियाणा में, 11 नए शुरू करने की प्रक्रिया चालू

रोजगार सरकार-प्रशासन हरियाणा

5 सरकारी, 5 निजी और 1 सरकारी सहायता प्राप्त मेडिकल कॉलेज हैं हरियाणा में

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने विधानसभा में जानकारी दी है कि 11 स्थानों पर चिकित्सा महाविद्यालयों की स्थापना हेतु प्रक्रिया चल रही है, जबकि इस समय राज्य में 11 अन्य चिकित्सा महाविद्यालय काम कर रहे हैं।
विज ने विधानसभा में एक प्रश्न के जवाब में बोलते हुए कहा कि सरकार प्रत्येक जिले में न्यूनतम एक मेडिकल कॉलेज खोलने की दिशा में आगे बढ़ रही है।
राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय भिवानी, राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय, जीन्द तथा श्री शीतला देवी माता मंदिर बोर्ड के सहयोग से गुरूग्राम महानगर विकास प्राधिकरण, गुरूग्राम द्वारा चिकित्सा महाविद्यालय स्थापित करना प्रस्तावित है। इसके अलावा सरकार ने एसआरएम मेडिकल कॉलेज सोनीपत, हरियाणा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल सांइसिस कैथल व गंगापुत्र मेडिकल कॉलेज कंडेला, जीन्द को अनापत्ति एवं अनिवार्यता प्रमाण पत्र जारी किया गया है।
स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इनके अलावा सरकार ने विभिन्न ट्रस्टों एवं संस्थाओं द्वारा चिकित्सा महाविद्यालय खोलने हेतु आशय पत्र जारी किये गये हैं। इनमें महाराजा अग्रसेन अस्पताल चैरिटेबल ट्रस्ट, नई दिल्ली द्वारा बहादुरगढ़, मीरी पीरी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा कुरुक्षेत्र तथा शाह सतनाम जी अनुसंधान एवं निर्माण सिरसा द्वारा सिरसा में चिकित्सा महाविद्यालय बनाने के लिए आशय पत्र (लेटर ऑफ इन्टैंट) जारी किये गये हैं।
इनके अलावा रेवाड़ी के गांव मनेठी में अखिल भारतीय चिकित्सा विज्ञान संस्थान खोलने के लिए भारत सरकार से अनुरोध किया गया है, जिसके लिए शीघ्र ही अनुमोदन प्राप्त होगा। इसके लिए मनेठी गांव में 200 एकड़ भूमि लीज पर उपलब्ध करवाई जा रही है। इसी प्रकार राज्य सरकार द्वारा महेन्द्रगढ़ में राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय की स्थापना की सैद्घांतिक स्वीकृति प्रदान कर दी है।

विज ने बताया कि प्रदेश में इस समय 5 सरकारी, एक सरकारी सहायता प्राप्त तथा 5 निजी चिकित्सा महाविद्यालय कार्यरत हैं। इनमें स्नातकोतर चिकित्सा विज्ञान संस्थान रोहतक, बीपीएस राजकीय चिकित्सा महिला महाविद्यालय खानपुर कलां, सोनीपत, शहीद खान मेवाती राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय नलहड़, नूहं, ईएसआईसी चिकित्सा महाविद्यालय फरीदाबाद तथा महाराजा अग्रसेन चिकित्सा महाविद्यालय अग्रोहा, हिसार में सरकारी तथा सरकारी सहायता प्राप्त चिकित्सा महाविद्यालय शामिल है।
इसी प्रकार एमएम चिकित्सा विज्ञान एवं अनुसंधान संस्थान मुलाना, अंबाला, श्री गुरू गोबिन्द सिंह ट्राईसैनटेनरी चिकित्सा महाविद्यालय, गुरूग्राम, आदेश चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल गांव मोहड़ी कुरुक्षेत्र, एनसी चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल इसराना पानीपत तथा वल्र्ड चिकित्सा विज्ञान एवं अनुसंधान महाविद्यालय गुरावड झज्जर काम कर रहे हैं।
इनमें कुल 1500 एमबीबीएस की सीटें हैं, इनमें अंतिम दो पर फिलहाल दाखिले पर रोक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *