ईयरफोन लगाकर स्कूल वैन चलाने से पैसेंजर ट्रेन की चपेट में आई वैन, 13 बच्चों की मौत

Breaking अनहोनी देश बड़ी ख़बरें

कान में ईयरफोन लगाकर वाहन चलाना एक साथ कईं ज़िंदगियां तबाह कैसे करता है इस बात का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते है कि उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले के दुदही रेलवे स्टेशन के पास गुरुवार सुबह मानव रहित क्रासिंग पर एक स्कूल वैन के पैसेंजर ट्रेन की चपेट में आने से 13 बच्चों की मौत हो गई जबकि आठ अन्य घायल हो गए। सभी बच्चे डिवाइन पब्लिक स्कूल के छात्र थे।

यूपी के कुशीनगर में हुए स्कूली वैन हादसे के लिए काफी हद तक ड्राइवर की लापरवाही जिम्मेदार थी। ड्राइवर कान में ईयरफोन लगाए हुए था, जिस कारण उसे ट्रेन के आने की आवाज सुनाई ही नहीं दी और वैन ट्रेन की चपेट में आ गई। बताया जा रहा है कि बच्चों ने ट्रेन देखकर चिल्लाना भी शुरू कर दिया था पर ड्राइवर ने ध्यान नहीं दिया। आपको बता दें कि गुरुवार सुबह कुशीनगर के विशुनपुरा थाने के दुदही रेलवे क्रॉसिंग पर स्कूल वैन के थावे-बढ़नी पैसेंजर ट्रेन से टकराने के चलते 13 बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई।

उत्तर पूर्व रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी संजय यादव ने बताया कि हादसा कुशीनगर जिले के कप्तानगंज-थावे रेलखंड पर दुदही रेलवे स्टेशन के पास एक मानव रहित रेलवे क्रासिंग पर गुरुवार सुबह सात बज कर दस मिनट पर हुआ। बच्चों को स्कूल लेकर जा रही एक वैन सीवान से गोरखपुर जा रही पैसेंजर ट्रेन -55075 की चपेट में आ गई।

पुलिस ने बताया कि स्कूल के प्रबंधक व प्रधानाध्यापक केजे खान को हिरासत में ले लिया गया है। घायल बच्चों की हालत भी नाजुक है।
बता दें कि अक्सर लापरवाही किस कद़र किसी की ज़िंदगी पर भारी पड़ती है, यह उसकी बानग़ी भर है। अगर ड्राईवर ईयरफोन न लगाए होता तो 13 बच्चे आज जीवित होते।

Read This Story

खसरे के टीके ने बढ़ाई आफत, आधा दर्जन बच्चे पड़े बीमार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *