1990 के दशक पाकिस्तान हॉकी टीम के स्टार कप्तान मंसूर अहमद है बिमार, इलाज के लिए भारत से लगाई गुहार

Breaking खेल देश हरियाणा

1990 के दशक की पाकिस्तान की मजबूत हॉकी टीम के कप्तान, 1994 में हॉकी वर्ल्ड कप के हीरो आज काफी बिमार है।  मंसूर अहमद का हार्ट ट्रांसप्लांट होना है। आज वह दिल की बीमारी से जूझ रहे हैं। लेकिन इसके लिेए उन्हें मदद की जरूरत है और इस मदद के लिए वो भारत से गुहार लगा रहे हैं।

आपको शायद याद हो कि मंसूर 1990 के दशक की पाकिस्तान की मजबूत हॉकी टीम के कप्तान थे, अहमद ने तीन ओलम्पिक, कई चैंपियन ट्रॉफी और वर्ल्ड कप में पाकिस्तान की नुमाइंदी की है। 1994 में वर्ल्ड कप फाइनल में नीदरलैंड्स के खिलाफ दो पेनल्टी स्ट्रोक्स रोककर ये हीरो बन गए थे. मंसूर उस वक्त के स्टार प्लेयर थे और हॉकी में उनका डंका बजता था.

आज ये स्टार प्लेयर काफी मुश्किलों से गुजर रहा है। मंसूर अपना इलाज भारत में कराना चाहते हैं। अहमद ने कहा, ‘हमनें उन्हें रिपोर्ट भेजी है। हमें लगता है कि किफायती इलाज और कामयाबी की ऊंची दर के हिसाब से भारत बेहतर विकल्प है।

अहमद ने फोन पर कहा कि उन्हें भारत से मदद की उम्मीद है, लेकिन मुझे आर्थिक मदद नहीं चाहिए। भारत का मेडिकल सिस्टम काफी अच्छा है मैं सिर्फ इस बात की उम्मीद कर रहा हूं कि जब जरूरत पड़े तो मुझे वीजा दे दिया जाए।

Read This Story

गुरुग्राम में 50 करोड़ का जीएसटी घोटाला, कंपनी के पते पर चल रही थी नाई की दुकान

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *