2 दिन में ही वापस लिए खेल कोटे के गलत निर्देश, अशोक खेमका ने जताई थी आपति

Breaking खेल

सरकारी नौकरियों में खिलाड़ियों को 3% कोटे का लाभ दिए जाने का सर्कुलर सरकार को मात्र दो दिन में ही वापस लेना पड़ गया। इसकी वजह यह रही कि ये सर्कुलर गलत जारी हो गया था।

इसमें ग्रुप ए और बी में खिलाड़ियों के लिए जहां कोटा 3 से घटाकर 1% कर दिया गया था, वहीं ग्रुप सी और डी की नौकरियों में खेल कोटा जातिगत आधार यानी सामान्य, एसी और बीसी में 1-1% बांट दिया गया था। इससे प्रदेशभर में खेल कोटे को लेकर हास्यस्पद स्थिति बन गई थी।

जब यह मामला खेल एवं युवा मामले विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेटरी अशोक खेमका के ध्यान में आया तो इस पर सरकार में गहरी आपति जताई। खेल एवं युवा मामले मंत्री अनिल विज ने भी उनकी आपति का समर्थन किया।

इसके बाद सरकार को अपनी गलती समझ आई और दो दिन बाद ही यानी 25 जनवरी को पूर्व में जारी आउट स्टैंडिंग स्पोर्ट्स पर्सन को ग्रुप ए और बी की सीधी भर्तियों में आरक्षण संबंधी सर्कुलर वापस ले लिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *