74 साल बाद हरियाणा के दो सैनिकों का अंतिम संस्कार इटली में होगा

Breaking चर्चा में दुनिया देश बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Panchkula, 13 Oct, 2018

द्वितीय विश्वयुद्ध में शहीद हुए 2 सैनिकों की हरियाणा निवासी के रूप में पहचान निर्धारित हुई है और अब उन्हें इटली में दफनाया जाएगा। रोहतक के हरिसिंह और हिसार के पालूराम 13वीं फ्रंटियर फोर्स राइफल्स की चौथी बटालियन में तैनात थे और 362 जर्मन इन्फैन्ट्री डिवीजन से मोर्चा ले रहे थे।

बता दें कि दोनों ही सैनिक पोगियो आल्टो की लड़ाई के दौरान सितंबर 1944 से ही लापता था और अब उनकी शिनाखत हुई है। जिसके बाद दोनों को फ्लोरेंस के गिरोन मॉन्यूमेंटल सिमेटरी में दफनाया जाएगा और उनकी कब्र से मिट्टी भारत लाकर उनके परिजनों को सौंपी जाएगी।

दोनों के ही शारीरिक अवशेष 1996 में पोगियो आल्टो के पास से मिले थे, जिनकी जांच 2010 में शुरू हुई थी और 2012 में पता चला था कि ये अवशेष गैरयूरोपीये युवकों के हैं। जिनकी आयु करीब 21 साल रही होगी।

कॉमनवेल्थ वॉर ग्रेव कमीशन के दस्तावेजों से लापता लोगों की जानकारी के आधार पर अब दोनों की पहचान हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *