हरियाणा पुलिस में 28 डीएसपी के पदों को मंजूरी, महिलाओं के मामलों की जांच के लिए होगी तैनाती

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें रोजगार सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Chandigarh

हरियाणा में महिला अपराध पर शिकंजा कसने, महिलाओं से जुड़े मामलों की जांच में तेजी लाकर दोषियों को कड़ी सजा दिलाने के पुख्ता प्रबंध की दिशा में कदम बढ़ाते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने 28 पुलिस उपाधीक्षक की भर्ती करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।

बीते साढ़े चार साल के दौरान प्रदेश सरकार द्वारा महिला सशक्तिकरण की दिशा में कदम उठाने के साथ-साथ घर और बाहर अपराध की शिकार हो रही महिला को उचित माहौल देने के साथ-साथ अपराधियों पर कानूनी शिकंजा कसने की दिशा में भी कदम उठाए गए हैं। इसी कडी में प्रदेश के विभिन्न जिलों में अब 32 महिला थाने संचालित हो रहे हैं, जहां महिला अपराध के मामलों का सख्ती से निपटान किया जा रहा है। पुलिस महानिदेशक मनोज यादव महिला अपराध से जुडे मामलों की जांच में तेजी लाने तथा अपराध पर शिकंजा कसने की दिशा में उच्च स्तरीय अधिकारियों की भर्ती करने का प्रस्ताव सरकार को भेजा गया था। इसमें 28 पुलिस उपाधीक्षक केवल महिला अपराध से जुडे मामलों के लिए भर्ती करने का प्रस्ताव था। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इस प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान कर दी है।

गौरतलब है कि इससे पूर्व भी प्रदेश सरकार द्वारा महिला थानों की संख्या बढाने के साथ-साथ जिला स्तर पर वन स्टाप सेंटर स्थापित किए गए हैं। जहां पीडित महिलाओं को आवासीय, इलाज, कानूनी सुविधाएं निशुल्क दी जा रही हैं, ताकि वह अपने खिलाफ हुए अपराध के दोषियों पर कडी कार्रवाई करवा सकें। दुर्गा शक्ति एप और दुर्गा शक्ति रैपिड एक्शन फोर्स का गठन, महिला जवानों की भर्ती से लेकर तमाम ऐसे कदम उठाए गए हैं, जिससे अपने खिलाफ हो रहे अपराधों का महिलाएं सामना करते हुए उन्हें उजागर कर रही हैं और उनके आत्म स्वाभिमान को मजबूत किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *