रोहतक में बेटियों को मिलेगी 3 और नई बसें, रक्षाबंधन के दिन बलराज कुंडू बेटियों को देंगे गिफ्ट

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष
Deepak Khokhar, Yuva Haryana
Rohtak, 16 July, 2018
जिला परिषद रोहतक के चेयरमैन बलराज कुंडू रक्षा बंधन के अवसर पर महम विधानसभा क्षेत्र में 3 और बस चलाएंगे। इसी के साथ क्षेत्र में बसों की संख्या 12 हो जाएगी। ये बस सिर्फ लड़कियों के लिए हैं और इनमें यात्रा निशुल्क है।

बलराज कुण्डू पहले भी 8 फ्री बसें चला रहे हैं। कुण्डू ने बताया कि महम हलके की 90 प्रतिशत छात्राओं को इन फ्री बसों का लाभ होगा।

कुंडू ने कहा कि वे बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ की मुहिम को आगे बढ़ा रहे हैं। इसी के साथ महम में लड़कियों के लिए एक कोचिंग सेंटर की शुरूआत होगी। जिला परिषद चेयरमैन ने यह भी बताया कि वे 700 लड़कियों की फीस भी खुद ही वहन करते हैं।

ये बसें ग्रामीणों इलाकों के लिए लगाई जा रही है इन बसों में सवार होकर ग्रामीण इलाकों की छात्राएं रोहतक में किसी भी शिक्षण संस्थान में पहुंच सकती है।

रक्षाबंधन के दिन महम में एक और फ्री कोचिंग सेंटर शुरू करेंगे। इससे पहले लाखनमाजरा और रोहतक में 2 फ्री कोचिंग सेंटर चल रहे हैं जहां पर सैंकड़ों बहन बेटियां शिक्षित हो रही हैं। तीसरा सेंटर महम में खुलेगा जिससे क्षेत्र की काफी लड़कियों को फायदा होगा।

इन के बाद हलके की छात्राओं के लिए चलने वाली निशुल्क बसों की संख्या 12 हो जाएगी और 1 बस रिज़र्व में रहेगी । रक्षाबंधन पर शुरू होने वाली 4 बसों में से बस न० 1 अजायब से चलकर मदीना, बहुअकबरपुर होते हुए रोहतक पहुंचेगी । बस न० 2 मातो भेणी, भेणी महाराजपुर, भेणी भैरव ,महम, बलमभा, खरकड़ा, मदीना से बहु अकबरपुर होते हुए रोहतक आएगी। बस न०3 भगवतीपुर से शुरू होकर टीटोली और सुंदरपुर होते हुए रोहतक आएगी। जब की बस न० 4 भाली आनंदपुर से डोभ होते हुए रोहतक पहुंचेगी ।

रक्षाबंधन के अवसर पर बलराज कुंडू की ओर से महम में रक्षाबंधन महापर्व कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। पिछले साल 12000 बहनों ने बलराज कुंडू को राखी बांधकर सुरक्षा का वादा लिया था इस वर्ष 21,000 बहनों से राखियां बंधवाने का लक्ष्य रखा गया है । इस भाई-बहन के प्यार-प्रेम के प्रतिक रक्षा बंधन के त्यौहार पर वो एक संदेश देना चाहते हैं कि हम सबको मिलकर अपनी बहनों-बेटियों को पढ़ा-लिखाकर आत्मनिर्भर बनाएं । सुरक्षित सफर मिलने के कारण और छात्राओं के अभिभावक भी राहत महसूस कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि हल्के की 90 प्रतिशत छात्राओं को निशुल्क बसों की सुविधा आसानी से मिल रही है। पहले चरण में 4 बसें शुरू की गई थी जो धीरे-धीरे अलग-अलग गांव के लोगों की तरफ से बच्चियों की और बसें चलाने की मांग पूरी होने के बाद रक्षाबंधन पर्व पर बसों की संख्या 12 हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *