साहिब की हत्या के आरोपियों को पकड़ने की मांग को लेकर 31 नेताओं ने दी गिरफ्तारी

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Younus Alvi, Yuva Haryana

Nuh, 16 August, 2018

7 अगस्त को पुलिस की गोली से मारे गए साहिब नहेदा की मौत का मामला सरकार के लिए गले की फांस बनता जा रहा है। मृतक साहिब का शव 9 दिन बाद भी दफनाया नहीं जा सका है।

बृहस्पतिवार को जहां 9वें दिन धरना जारी रहा, वहीं आज 31 प्रमुख लोगों ने विरोध में अपनी गिरफ्तारियां दी। गिरफ्तारी देने वाले नेताओं में दो विधायक, तीन पूर्व मंत्री, दो पूर्व विधायक, 10 से अधिक विधायक का चुनाव लड़ चुके हैं या उनके परिवार से मंत्री रह चुके हैं।

गिरफ्तारी देने वालों में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष और भाजपा की टिकिट पर पिछला चुनाव लड़ा इकबाल जैलदार भी शामिल रहा। सभी नेताओं के खिलाफ धारा 107/151 के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया गया।

जब किसी भी नेता ने जमानत के बैलबोंड नहीं भरे, तो उनको बिना जमानत के ही 40 किलोमीटर दूर नूंह ले जाकर छोड़ दिया गया। नेताओं ने चतावनी देते हुऐ कहा है ये गिरफ्तारियां और धरना तब तक जारी रहेगा, जब तक आरोपी पुलिस कर्मियो को गिरफ्तार नहीं कर लिया जाता और गांव पटाकरपुर के सैंकडों निर्दोश लोगों के खिलाफ दर्ज झूंठे मामले से उनको निकाल नहीं दिया जाता है।

आप को बता दें कि उतराखंड के देहरादून शहर की एक मोबाइल की दुकान में चोरी करने के आरोपी शब्बीर को गिरफ्तार करने के लिए 7 अगस्त को पुन्हाना खंड के गांव पटाकपुर में पुलिस ने दबिश देकर आरोपी शब्बीर को पकड़ लिया था, लेकिन ग्रामीणों ने शब्बीर को जबरदस्ती पुलिस के कब्जे से छुडा लिया था।

दोनो पक्षों में हुई फारिंग में नहेदा निवासी 22 वर्षीय साहिब नाम के युवक की मृत्यु हो गई थी। साहिब की हत्या का आरोपी ग्रामीणों ने पुलिस को बताया है। जबकि पुलिस ने मामले की जांच तक कुछ भी कहने से इंकार किया हुआ है। वैसे पुलिस ने करीब 35 पुलिसकर्मियों को आरोपी मानते हुए रोजनामचा में उनके नाम की डीडी रखी है।

साहिब की हत्या का पुलिस कर्मियों पर आरोप लगाते हुऐ मेवात के राजनेता और प्रमुख लोग पुन्हाना की अनाज मंडी में पिछले 8 अगस्त से घरने पर बेठे हुऐ हैं। फिलहाल शव पीजीआई रोहतक में रखा हुआ है। विधायक जाकिर हुसैन और आफताब अहमद पूर्व मंत्री ने कहा कि कांग्रेस और इनेलो शुक्रवार को विधानसभा सत्र में सरकार को घेरने का काम करेगी और 19 अगस्त को दिल्ली के राजघाट पर धरना दिया जाएगा।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *