शॉर्टसर्किट से भिवानी में 32 एकड़ में गेहूं की फसल जलकर हुई राख, किसानों की मेहनत चढ़ी आग की भेंट

अनहोनी खेत-खलिहान चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Indervesh Duhan, Yuva Haryana

Haryana, 20-04-2018

भिवानी जिला के गांव मिताथल में  32 एकड़ में गेहूं की फसल में आग लगने से किसानों की सारी मेहनत राख हो गई। फसल पककर पूरी तरह से तैयार हो गई थी। फसल से मुनाफा कमाना की किसानों की उम्मीदों पर समय पानी फिर गया जब, फसल शॉर्ट सर्किट से आग की भेंट चढ़ गई। घटना करीब दोपहर 12 बजे की है।

तेज हवा के चलने से  गांव मिताथल के खेतों से गुजरने वाले बिजली विभाग की तारों के आपस में भिडऩे से शॉर्ट-सर्किट हुआ और गेहूं की तैयार फसल ने आग पकड़ ली।

इस दौरान मौके पर काम कर रहे किसानों ने जब धुआं उठता देखा तो वे आग लगी फसल की तरफ दौड़ पड़े तथा उसे पेड़ों की डालियों से बुझाने लगे। इसी दौरान गांव के अन्य लोगों ने फायर बिग्रेड को सूचना दी।

जब तक फायर बिग्रेड पहुंचे, तब तक 32 एकड़ में गेहूं की खड़ी 8 किसानों की फसल जलकर राख हो गई थी।  किसान मनफूल, दयानंद सुनहरी देवी ने बताया कि उनके पिछले 6 महीने की मेहनत राख में मिल गई। उन्होंने उधार में पैसे लेकर बीज, खाद की व्यवस्था की थी।

अब उसका कर्ज भी उनके सिर चढ़ गया है। किसान दयानंद ने फसल जलने से खुद के बर्बाद होने की बात कही। इन किसानों ने प्रदेश सरकार से प्रति एकड़ 50 हजार रूपये मुआवजा देने की मांग करते हुए कहा कि यदि सरकार उनकी मदद नहीं करती है तो उनके लिए भविष्य में कृषि कार्य करना कठिन हो जाएगा।
भिवानी के एसडीएम सतीश कुमार से जब किसानों के आग से जली फसल के मुआवजे के बारे में बात की तो उन्होंने कहा कि किसानों की फसल जलने का उन्हे दुख है। लेकिन जिन किसानों ने फसल बीमा योजना के तहत बीमा करवाया हुआ है, उनको जरूर राहत प्रदान की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *