राजभवन में पंचायतों में मिले स्टार और लाखों के इनाम.. आपका गांव कब बनेगा सेवन स्टार ?

Breaking खेत-खलिहान चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष
राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी ने 7 स्टार इंदरधनुष योजना के तहत 5 और 6 स्टार हासिल करने वाली राज्य की 7 पंचायतों को सम्मानित किया है, जिसमें पलवल के भैंडोली और घरौंट ग्राम पंचायत, जिला चरखी दादरी के बाढड़ा ग्राम पंचायत और जिला रोहतक के काहनौर ग्राम पंचायत ने 5 स्टार हासिल किये हैं। इसके अलावा, जिला पलवल के खंड हथीन के जैनपुर व जनाचौली और नंगला भीखू ग्राम पंचायत ने 6 स्टार हासिल किये हैं।
इस योजना के तहत हर स्टार पर 1 लाख रुपये की राशि ग्राम पंचायत को मिलेगी और स्वच्छता तथा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर सराहनीय कार्य करने पर 1.5-1.5 लाख रुपये की राशि दी जाएगी। पुरस्कार प्राप्त करने वाले पंचायत में बाढड़ा, भैंडौली, घरौंट ग्राम पंचायत को 5.5 लाख रुपये काहनौर को 6 लाख रुपये, जैनपुर को 7 लाख रुपये तथा जनाचौली और नंगला भीखू ग्राम पंचायत को 6.5 लाख रुपये की राशि आरटीजीएस के माध्यम से दी गई है।

राज्यपाल ने कहा कि अगर देश की सभी ग्राम पंचायतें इस तरह से काम करेंगी तो सबका-साथ सबका-विकास के रास्ते पर आगे बढ़ते हुए एक भारत-श्रेष्ठ भारत के साथ संपूर्ण भारत का निर्माण होगा। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार ग्रामीण और किसान के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। जिसका एक उदाहरण है कि देश में पहली बार हरियाणा सरकार ने पढ़ी लिखी पंचायतें बनाने की पहल की है और आज इसी का परिणाम है कि पढ़ी लिखी पंचायतें होने से गांव में विकास कार्य बहुत तेजी और पारदर्शी तरीके से हो रहे हैं।
राज्यपाल ने गर्व प्रकट किया कि वे उस राज्य के राज्यपाल हैं जहां नई-नई सार्थक पहल होती रहती हैं। उन्होंने आगे कहा कि आज हरियाणा खुले में शौचमुक्त व केसोसीन मुक्त हो चुका है।
विकास एवं पंचायत मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ ने कहा कि जिन पंचायतों ने आज पुरस्कार जीते हैं, ये दूसरे गांवों को प्रेरणा देने का काम करेंगी। उन्होंने कहा कि गांव को विकसित करने के लिए हम पैकेज ऑफ प्रैक्टिसिस लेकर आए जिसमें अलग-अलग बिंदुयों पर कार्य करने की आवश्यकता है, इसे ही 7 स्टार इंदरधनुष योजना का नाम दिया गया। उन्होंने कहा कि सिर्फ पढ़ी-लिखी पंचायतें होने से बात नहीं बनेगी बल्कि पंचायतें अपना बेस्ट दे सकें इसके लिए उन्हें शिक्षित के साथ प्रशिक्षित भी बनाने पर जोर दिया। इसके दृष्टिगत ग्राम सचिवालयों की स्थापना की गई।
 उन्होंने कहा कि हर गांव में गौरव पट्ट भी लगाए जा रहे हैं, जिन पर गांव के स्वतंत्रता सेनानियों के अलावा शहीदों तथा उन वीरों के नाम अंकित किये जा जाते हैं जिन्होंने देश व समाज के लिए अतुल्य योगदान दिया है।  इससे गांव के युवाओं को समाज और देश के लिए कुछ करने की प्रेरणा मिलेगी। उन्होंने कहा कि ये विजयी पंचायतें अन्य पंचायतों को प्रेरित करेंगी और ग्रामीण जीवन की तस्वीर बदलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *