इंग्लिश मीडियम सरकारी स्कूल में आधे से ज्यादा बच्चे फेल, सरकार की योजना नहीं लाई रंग

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Yamuna Nagar, 11 April, 2019

यमुनानगर जिले के बिलासपुर स्थित एक इंग्लिश मीडियम सरकारी स्कूल में ढाक के तीन पात का जीता जागता उदाहरण देखने को मिला है। स्कूल के परीक्षा परिणाम ने एक बार फिर साबित कर दिया कि सरकार भले ही शिक्षा पर पानी की तरह पैसे बहा रही हो, लेकिन वो किसी काम का नहीं।परीक्षा में शिक्षा का परिणाम ढाक के तीन पात ही रहने वाला है।

दरअसल, यमुनानगर जिले के बिलासपुर में एकलौता सरकारी इंग्लिश मीडियम स्कूल है। विद्यालय में आधे से ज़्यादा बच्चों का परीक्षा परिणाम सही नहीं रहा। सरकारी स्कूलों में गिरते परीक्षा परिणामों को लेकर सरकार जहां कई योजना एवं दिशा निर्देश जारी कर रही है। वहीं दूसरी ओर सरकार विद्यार्थियों के नकारात्मक परिणामों से काफी निराश भी है।

बात करें इस स्कूल की, तो कुल 212 बच्चो में से 142 बच्चे अनुतृण घोषित किए गए हैं। वहीं कार्यवाहक जिला शिक्षा अधिकारी पृथ्वी सैनी का कहना है कि हरियाणा के दूसरों जिलों में शिक्षा के परिणाम काफी अच्छे देखने को मिले हैं। लेकिन इस स्कूल का नाम आते ही विभाग चुप्पी साधे है. ऐसा क्यों हुआ यह जांच का विषय है। वह स्वयं मानते हैं कि परीक्षा का परिणाम काफी निराशा जनक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *