अभय चौटाला और चंद्रमोहन बिश्नोई की मुलाकात, प्रदेश में सियासी पारा हाई

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 07 June, 2018

हरियाणा में जून की इस गर्मी में तापमान हाई है लेकिन राजनीतिक गलियारों में भी अब ठंड नहीं है। राजनेताओं ने भी राजनीतिक गलियारों में पारा पूरा हाई कर रखा है। और इसी बीच चंद्रमोहन बिश्नोई से इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला की मुलाकात ने सिसायत में भूचाल ला दिया है।

अभय चौटाला और चंद्रमोहन बिश्नोई की करीब आधे घंटे तक मुलाकात हुई है। यह मुलाकात चंद्र मोहन बिश्नोई के आवास पर हुई जिसके बाद से लगातार राजनीतिक पंडित अलग-अलग कयास लगा रहे हैं।

हालांकि हरियाणा में चौधरी भजनलाल को कभी राजनीति का मंझा हुआ खिलाड़ी माना जाता था लेकिन उनके स्वर्गवास के बाद उनके बेटों चंद्रमोहन बिश्नोई और कुलदीप बिश्नोई ऐसा सियासी रंग नहीं दिखा पाए हैं।

हालांकि भजनलाल परिवार से अब उनकी पुत्रवधु रेणुका बिश्नोई भी विधायक बन चुकी है वहीं भजनलाल के पौत्र भी अब जल्द ही राजनीति में इंट्री कर सकते हैं।

मौजूदा वक्त में भजनलाल का पूरा परिवार अपनी पार्टी हरियाणा जनहित कांग्रेस का विलय कर चुका है ऐसे में अब वो कांग्रेस के साथ मिलकर चल रहे हैं, लेकिन अभी तक भजनलाल परिवार को कांग्रेस से भी कुछ मिला नहीं है।

हरियाणा के सियासी समीकरणों की इस वक्त बात की जाए तो हरियाणा में इनेलो और बीएसपी का गठबंधन है और इनेलो लगातार प्रदेश में मजबूती के साथ सक्रिय हो रही है ।

इधर कांग्रेस के नेता भी लगातार पूरे हरियाणा में पूरी तरह से एक्टिव हो गए हैं। जीटी रोड बैल्ट पर जहां पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंंह हुड्डा अपनी जनक्रांति रथ यात्रा लेकर वोटरों के बीच जा रहे हैं तो दूसरी तरफ कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर साइकिल की सवारी कर रहे हैं।

बीजेपी की तरफ से लगातार घोषणाओं और उनको गिनवाने की होड़ लगी हुई है। खुद मुख्यमंत्री गांवों में जाकर रात बिता रहे हैं तो वहीं खट्टर के मंत्री और विधायक भी अब रात्रि प्रवास गांवों में ही कर रहे हैं।

चंद्रमोहन बिश्नोई और अभय चौटाला की मुलाकात को लेकर भले ही दोनों नेता कुछ भी नहीं बोल रहे हो लेकिन राजनीतिक जानकारों के मुताबिक अब चंद्रमोहन बिश्नोई अपने बेटे को राजनीतिक अखाड़े में लाना चाहते हैं और उसी को लेकर वो कहीं ना कहीं प्रयासरत हैं।

खैर नेताओं का आपसी मिलना जुलना चलता रहता है लेकिन ये मुलाकात क्या रंग खिलाएगी ये देखने वाली बात होगी।

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *