विधानसभा में अभय चौटाला ने सरकार पर बोला हमला, उठाए ये मुद्दे

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

05 Nov, 2019

हरियाणा विधानसभा सत्र के मंगलवार को दूसरे दिन इनेलो नेता चौधरी अभय सिंह चौटाला ने राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार को कई मुद्दों पर घेरते हुए कहा कि प्रदेश के किसानों की धान और कपास की फसलों की खरीद में हजारों करोड़ रुपए का घोटाला हो रहा है। जजपा के संकल्प-पत्र में लिखा है कि अगर कोई सरकारी एजेंसी न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किसान की फसल नहीं खरीदेगी, उस पर मुकद्दमा दर्ज किया जाएगा। देखने वाली बात यह है कि किसानों का धान मंडियों में रुल रहा है और सरकारी एजेंसियां किसानों को नमी के नाम पर न्यूनतम समर्थन मूल्य देने से इंकार कर रही हैं। नमी का बहाना करके सरकारी एजेंसियां 100 से लेकर 150 रुपए प्रति क्विंटल किसानों से कटौती भी कर रही हैं।
इनेलो नेता ने कहा कि आज तक भाजपा द्वारा स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू नहीं की गई है इसलिए किसानों को मंडियों में लूटा जा रहा है और उन्हें फसलों के लागत मूल्य भी नहीं मिल रहे। पिछले चार महीनों मेें प्रदेश में अपराधों का ग्राफ निरंतर बढ़ा है जिसमें महिलाओं के प्रति सबसे ज्यादा अपराध बढ़े हैं।

उन्होंने कहा कि गठबंधन सरकार प्रदेश के दो लाख युवाओं को नौकरी करने योग्य बनाने की बात कर रही है लेकिन इसके विपरीत लगभग चार लाख युवाओं के नाम पर ‘सरकारी सहायता राशि’ सरकारी अफसरों की जेब में चली गई है। इस बाबत माननीय उच्च न्यायालय ने भी सात दिनों के अंदर सीबीआई जांच के आदेश दिए हंै। भाजपा सरकार ने जो पिछले पांच सालों में घोटाले किए हैं वो सब जजपा के नेताओं द्वारा पहले ही समाचार-पत्रों और प्रेसवार्ता के माध्यम से उजागर किए जा चुके हैं, जिनके बारे में दोबारा कहने की आवश्यकता ही नहीं है। उन्होंने कहा कि अब देखना ये है कि क्या प्रदेश सरकार इन घोटालों की जांच करवाएगी? यह सब तो आने वाला समय ही बताएगा।
इनेलो नेता ने सरकार के ‘जल संरक्षण’ पर चुटकी लेते हुए कहा कि हमने जमीन पर पानी एकत्र करने की बात तो सुनी है लेकिन भाजपा का यह कौन-सा तरीका है कि पानी छतों पर एकत्रित करके बचाया जाएगा। अपने वक्तव्य में उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा प्रदेश की छात्राओं को स्कूल/कॉलेज आने-जाने के लिए बसों में कोई सुविधा नहीं दी जा रही, आए दिन उनके साथ अप्रिय घटनाएं घटती रहती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *