ओपी धनखड़ के ताश बांटने के प्लान पर बोले अभय चौटाला, किसानों को खेत नहीं जाने देंगे ऐसे नेता

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष
Yuva Haryana
Bhiwani, 10 August, 2018
भिवानी पहुंचे नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने प्रदेश सरकार पर नशे के माफिया व अपराधियों को संरक्षण देने का बङा आरोप लगाया है। अभय ने कहा कि सरकार के इस संरक्षण के चलते ही प्रदेश में अपराधिक घटनाएं बढ रही हैं और नशा माफिया युवाओं को बर्बाद कर रहा है। साथ ही उन्होने कांग्रेस व भाजपा सासंदों द्वारा एसवाईएल को लेकर उठाए उद्दे पर भी चुटकी ली और कृषि मंत्री के ताश वाले बयान पर भी पलटवार किया।
इस दौरान नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने कृषि मंत्री के आज दिए बयान पर भी कङी प्रतिक्रिया दी। कृषि मंत्री द्वारा भाजपा के चार साल के विकास कार्य ताश के पतों पर छपा कर लोगों में बांटने की बात पर अभय सिंह चौटाला ने कहा कि कृषि मंत्री ओपी धनखङ ने हमेशा किसानों को बर्बाद करने का कार्य किया है। उन्होने कहा कि भाजपा के मंत्री नहीं चाहते कि को खेती करे या अन्य काम। इसलिए लोगों को व्यस्त रखने के लिए और उन्हे मारने के लिए ये ताश की चाल चली है। अभय ने कहा कि किसानों की बर्बादी पर नाचने वाले कृषि मंत्री के लिए वो इस बार खुद विधानसभा में ढोलकी लेकर जाएंगें और ढोलकी पर किसानों की बर्बादी करने वाले कृषि मंत्री ओपी धनखङ को नचाएंगें।
ये भी पढ़ें >>>>>
एसवाईएल के लिए लङाई लङ रहे नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने एक बार फिर 18 अगस्त को हरियाणा बंद का एलान किया हुआ है। इसको लेकर वो हर जिला स्तर पर इनेलो व बसपा कार्यक्रताओं की बैठक ले रहे हैं। इसी के तहत शुक्रवार को अभय चौटाला व प्रकाश भारती ने देवीलाल सदन में बैठक ली और हरियाणा बंद सफल बनाने के लिए जिम्मेवारियां सौंपी।
वहीं एसवाईएल मुद्दे पर बोलते हुए अभय सिंह चौटाला ने दीपेन्द्र हुड्डा, राव इंद्रजीत व धर्मबीर पर चुटकी ली। उन्होने कहा कि चार साल बाद इन्हे मौत सामने देख एसवाईएल याद आई है। अभय ने कहा कि भाजपा नेताओं का ज्ञान नहीं, नहीं तो संसद में दीपेन्द्र हुड्डा द्वारा एसवाईएल का मुद्दा उठाने पर जवाब देते कि 10 साल केन्द्र में और 10 साल हरियाणा में उनके पिता की सरकार रहते क्या किया। अभय ने कहा कि भाजपा के मंत्री राव इंद्रजीत व सासंद धर्मबीर का भी यही हाल है। ये भी 10 साल राज रहते कांग्रेस में रहे। उन्होने कहा कि अब चुनाव सिर पर आते देख, ये लोगों के बीच जाने के रास्ते ढूंढ रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *