चौ. ओमप्रकाश चौटाला ने उमेद रेढू को चुना, क्योंकि वह साधारण किसान परिवार से हैं और आम लोगों से जुड़े हुए हैं- अभय चौटाला

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Chandigarh, 19 Jan, 2019

जींद उप-चुनाव में इनेलो-बसपा गठबंधन प्रत्याशी उमेद सिंह रेढू के लिए प्रचार करने व बार एसोसिएशन के निमंत्रण पर नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला जींद बार एसोसिएशन पहुंचे। इस दौरान संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि चौधरी ओमप्रकाश चौटाला ने उमेद रेढू को इसलिए चुना क्योंकि वह साधारण किसान परिवार से हैं और आम लोगों से जुड़े हुए सामाजिक व्यक्ति हैं।

गठबंधन प्रत्याशी के पक्ष में समर्थन की मांग करते हुए उन्होंने यह भी कहा कि रेढू जींद के लोकल प्रत्याशी हैं और आप लोगों के बीच में ही रहेंगे। अगर जींद की जनता उन्हें चुनती है तो वह हलकावासियों की समस्याओं का समाधान करने में समर्थ रहेंगे।

इनेलो वरिष्ठ नेता ने भाजपा पर प्रदेश की जनता के साथ भेदभाव का आरोप लगाते हुए कहा कि सरकारी नौकरियों में मैरिट के नाम पर ग्रामीण परिवेश के युवाओं के साथ भेदभाव हो रहा है। सबका साथ सबका विकास का नारा देने वाली भाजपा गरीब व सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों के साथ मैरिट के नाम पर खिलवाड़ कर रही है। इनेलो सरकार से मांग कर चुकी है कि ग्रामीण परिवेश के अभ्यार्थियों को नौकरी की परीक्षाओं में 20 प्रतिशत अतिरिक्त अंक का लाभ दिया जाए।

नेता विपक्ष ने कांग्रेस प्रत्याशी रणदीप सुरजेवाला को लेकर टिप्पणी करते हुए कहा कि जो व्यक्ति पहले से ही विधायक हो उसे दोबारा चुनाव लड़ाना दर्शाता है कि उनके पास कोई उम्मीदवार नहीं है। अभय सिंह ने याद दिलाया कि विधानसभा की 70 सीटिंग में सुरजेवाला केवल छह बार उपस्थित रहे हैं, जिसमें से पांच बार वह हाजिरी लगाकर वापिस लौट गए। जिस व्यक्ति को प्रदेश व अपने निर्वाचित क्षेत्र की चिंता नहीं वह जींद वासियों के साथ कभी भी न्याय नहीं कर सकता।

अभय सिंह ने यह भी याद दिलाया कि पंजाब विधानसभा चुनाव 2014 में सुरजेवाला ने कांग्रेस का मैनिफेस्टो जारी करने वाले लोगों में शामिल था, जिसमें कहा गया था कि ‘पंजाब एक बूंद पानी भी किसी राज्य को नहीं देगा’। विधानसभा में जब उनसे स्पष्टीकरण मांगा गया तो शोर-शराबे के बीच वहां से भाग खड़े हुए। जो व्यक्ति हरियाणा के हितों की रक्षा नहीं कर सकता, जो अपने इलाके की आवाज नहीं उठा सकता, जींद की जनता उससे कोई उम्मीद नहीं लगा सकती।

वहीं नवनिर्मित जेजेपी के प्रत्याशी दिग्विजय सिंह को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वह ‘लोयर’ नहीं ‘लायर’ है। उन्होंने यह टिप्पणी दिग्विजय सिंह की इस बात पर की जिसमें उन्होंने खुद को वकील कहा था। नेता विपक्ष ने यह भी कहा कि जो व्यक्ति चौधरी ओमप्रकाश चौटाला का अपमान कर सकता है, जींद की जनता उससे इज्जत व सम्मान की उम्मीद नहीं कर सकती। झूठ बोलने वालों से बेहतर है कि इनेलो-बसपा उम्मीदवार को वोट देें जो हलकावासियों का सम्मान करेगा।

इस मौके पर बसपा प्रदेशाध्यक्ष प्रकाश भारती ने कहा कि मोदी सरकार की कानून में कोई आस्था नहीं है, वह संविधान को खत्म कर तानाशाही लाना चाहती है। बसपा प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि देश व प्रदेश की सत्ता से भाजपा को बाहर करने का वक्त आ गया है और बार एसोसिएशन के सदस्यों से उन्हें उम्मीद है कि उपचुनाव में सहयोग कर वह गठबंधन का साथ देंगे। इस अवसर पर इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, विधायक परमेंद्र ढुल, बार प्रेजिडेंट बलराज श्योराण, इनेलो प्रदेश प्रवक्ता प्रवीण आत्रेय, इनेलो लीगल सैल पे्रजिडेंट निर्मल संधू सहित सैकड़ों बार एसोसिएशन मेंबर मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *