ADG की बड़ी कार्रवाई- नारनौल की महिला एसएचओ सस्पेंड

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा के खिलाड़ी हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Narnaul, 13 Sep, 2018

एडीजीपी श्रीकांत जाधव ने एक बड़ी कार्रवाई करते हुए नारनौल की महिला एसएचओ मीनाक्षी शर्मा को सस्पेंड कर दिया है, इसके साथ ही डीएसपी विनोद कुमार को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है।

डीएसपी विनोद कुमार को महिला थाना नारनौल का सेक्शन अधिकारी बनाया हुआ है और जिस मामले के चलते यह कार्रवाई की गई है, उसमें उनकी भी मिलीभगत पाई गई है। जिसके चलते उन्हें भी एडीजीपी द्वारा कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

महिला एसएचओ सब इंस्पेक्टर मीनाक्षी शर्मा को सस्पेंड करने के बाद उसका हैडक्वाटर महेंद्रगढ से बदलकर नूंह कर दिया गया है। एडीजीपी ने यह कार्रवाई एक महिला द्वारा दर्ज करवाए गए दुष्कर्म के मुकदमें की जांच में एसएचओ द्वारा दुष्कर्म होना नहीं पाया जाना लिखकर, दुष्कर्म की धारा हटाने पर की गई है।

जानकारी के अनुसार नारनौल के साथ लगते एक गांव की महिला ने अपने देवर व ससुर के खिलाफ दहेज व दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज करवाया था। महिला की शिकायत पर दर्ज किए गए इस मुकदमे को जांच के बहाने लटकाया गया और इस मामले में किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया।

महिला द्वारा जब बार- बार इस मामले में थाने के चक्कर लगाए गए, तो इसकी जांच महिला के थाना सेक्शन अधिकारी कनीना डीएसपी विनोद कुमार को सौंप दी गई। इसके बाद इस मुकदमें की जांच को आगे बढ़ाते हुए महिला एसएचओ की जांच को आधार मानते हुए पीड़िता द्वारा दर्ज करवाए गए मुकदमें से दुष्कर्म की धारा हटा दी गई।

महिला द्वारा दर्ज करवाए गए मुकदमें से दुष्कर्म की धारा हटाने देने के बाद महिला इस मामले को लेकर एडीजीपी श्रीकांत जाधव के समक्ष पेश हो गई। जिस पर एडीजीपी ने मुकदमें की फाइल मंगवाकर इसकी जांच की।

इसके बाद एडीजीपी ने महिला के दुष्कर्म में मामले की जांच में लापरवाही बरतने पर नारनौल की महिला एसएचओ मीनाक्षी शर्मा को तुरंत प्रभाव से सस्पेंड करने के आदेश दिए और डीएसपी कनीना विनोद कुमार को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *