महाभारत चल रही है, कार्यकर्ता तय करें कि दुर्योधन का साथ देना है या पांडवों का – अजय सिंह चौटाला

Breaking बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा

Pradeep Dhankha
Yuva Haryana, Jhajjar

पैरोल पर आए इनेलो नेता अजय सिंह चौटाला ने इनेलो के भीतर चल रही रस्साकशी को महाभारत की संज्ञा दी है। झज्जर पहुंचे अजय चौटाला ने कहा कि हालात महाभारत मे हुई कौरवों और पांडवों की लड़ाई जैसे बन गए है। उन्होंने मौजूद कार्यकर्ताओं से कहा कि वे खुद तय करें कि उन्हें दुर्योधन का साथ देना है या पांडवों का।

18, जनपथ पर एक दिन पहले कही बात को अजय सिंह ने दोहराया और कहा कि अधिकार मांगने से नहीं मिला करते, छीनने पड़ते हैं। उन्होंने कहा कि ना वे गलत तरीके से अधिकार जताते और ना ही अन्याय को सहन करेंगे। अजय सिंह चौटाला यहीं नही रूके। उन्होने बिना नाम लिए निशाना साधते हुए कहा कि आज भी मुझे अच्छे से याद है कि जो लोग आज हमारे खिलाफ आवाज उठा रहे है, वो कार्यकर्ताओ के साथ मंच पर कैसा अभद्र व्यवहार करते थे। यहां तक कि कार्यकर्ताओ से गाली-गलौच तक की जाती थे, लेकिन मैंने हमेशा आप लोगों का मान-सम्मान किया है और हमेशा करता रहूंगा। साथ ही ना आपको कभी जलील होने दिया, ना कभी जलील होने दिया जाएगा। अजय सिंह चौटाला ने कहा कि ना हमें साम्राज्य चाहिए, ना सत्ता चाहिए, हमें तो बस कार्यकर्ताओं का सम्मान चाहिए।

अजय सिंह चौटाला ने कहा कि वे तेजा खेड़ा जाकर पहले अपनी मां का आर्शीवाद लेंगे। चौटाला ने कार्यकर्ताओ को जींद में 17 नवम्बर को होने वाली कार्यकारिणी की बैठक का निमंत्रण देते हुए कहा कि फैसला 17 नवम्बर को आप सबके सामने ही किया जाएगा।

इस दौरान अपने पिता अजय चौटाला के साथ झज्जर पहुंचे युवा नेता दिग्विजिय सिंह चौटाला ने पत्रकारो के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि जनता क राय परमात्मा की राय होती है। हम जनता के अनुरूप ही फैसला लेंगे। 17 तक का इंतजार करो, सबकुछ आपके सामने होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *