गुस्साई भीड़ ने पुलिस पर किया हमला, एक पुलिसकर्मी के सिर पर आई चोट!

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Umang Sheoran, Yuva Haryana

Panchkula, 8 September 2019 

पंचकूला के आशियाना फ्लैट्स औद्योगिक क्षेत्र फेज-1 में शनिवार देर रात पुलिसकर्मीयों ने एक युवक को जिप्सी में घसीटा तो लोग भड़क गए। लोगों ने जिप्सी को रोक लिया और उसके बाद काफी हाथापाई हुई। गुस्साएं लोगों ने डंडों से पुलिसकर्मियों को पीटा और पीसीआर के शीशे तोड़ दिए।

 

बताया जा रहा है कि एक पुलिसकर्मी के सिर पर काफी चोट आई है। घटना की सूचना मिलते ही सेक्टर-19 चौकी प्रभारी सहित बड़ी लगभग पुलिस की टीम मौकें पर पहुंची। ढाई घंटे तक पुलिस के खिलाफ लोगों ने नारेबाजी की। लोग जिप्सी में तैनात कर्मचारियों का मेडिकल कराने पर अड़े रहे। चौकी प्रभारी के आश्वासन के बाद भी लोग नहीं माने। जिसके बाद उच्चाधिकारियों से बातचीत की गई और आरोपित पुलिसवालों को लाइन हाजिर करने की बात कही गई।

 

 

जानकारी के अनुसार पीसीआर-11 रोजाना की तरह आशियाना कांप्लेक्स फेज-एक में गश्त कर रही थी। इस दौरान गर्मी एवं उमस के चलते एक घर के आगे तीन युवक बैठे थे। पुलिस कर्मचारी ने जिप्सी इन युवकों के पास रोक ली। इसके बाद इनका नाम-पता पूछने लगे। एक युवक ने अपना नाम विक्रम बताया।

 

इसी बीच किसी बात को लेकर पुलिसकर्मियों ने विक्रम पर गुस्सा करना शुरू कर दिया और गाली देने लगे। विक्रम ने जब विरोध किया तो जिप्सी के ड्राइवर अमरजीत ने विक्रम की बाजू पकड़ ली। अमरजीत ने जिप्सी को स्टार्ट कर लिया और विक्रम को घसीटते हुए लगभग 100 मीटर की दूरी तक ले गया। विक्रम चिल्लाने लगा तो लोगों ने जिप्सी को आशियाना के अंदर ही रोक लिया। लोगों ने पूछा तो पुलिस उन्हें ही देने गाली देने लगी।

 

 

इसके बाद लोगों ने पुलिस जिप्सी को घेरकर विक्रम को छुड़वाया। लोगों ने घसीटने का कारण पूछा तो पुलिस कर्मचारी सुरेंद्र एवं अमरजीत गालीगलौज करके धमकाने लगे। लोग भड़क गए और डंडे उठाकर ले आए। इसके बाद पुलिस की पिटाई कर दी और जिप्सी के शीशे भी तोड़ दिए। लोगों ने दोनों कर्मचारियों को वहीं पर बैठा लिया। इस दौरान लोगों ने सेक्टर-19 चौकी में फोन कर दिया। जिसके बाद चौकी प्रभारी गुलाब सिंह मौके पर पहुंचे। मामला संवेदनशील होने के चलते चौकी प्रभारी ने लोगों को समझाने की कोशिश की लेकिन लोग कुछ भी सुनने के लिए तैयार नहीं थे। पुलिस ने मेडिकल में की आनाकानी तो लोग नहीं माने।

 

लोगों का आरोप है कि पुलिस कर्मचारियों ने शराब पी रखी थी। जिप्सी के अंदर एक प्लेट और गिलास भी पड़ा था। लोग दोनों पुलिसवालों का मेडिकल करवाने की बात पर अड़ गए। चौकी प्रभारी ने लोगों को आश्वासन दिया कि दोनों कर्मचारियों को लाइनहाजिर कर दिया जाएगा। लेकिन कोई सुनने के लिए तैयार नहीं था। इसके बाद महिला पुलिस को मौके पर बुलाकर महिलाओं को साइड किया गया। चौकी प्रभारी ने लोगों को आश्वासन दिया कि दोनों का मेडिकल करवाया जाएगा। जिसके बाद लोगों ने जिप्सी एवं दोनों पुलिस कर्मचारियों को जाने दिया। मामले में जांच की जा रही है। जो भी कानूनी कार्रवाई बनती है,  वह की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *