440 खेल नर्सरियां खुल चुकी, 600 और जल्द शुरू होंगी -अनिल विज

Breaking खेल चर्चा में बड़ी ख़बरें युवा शख्सियत सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा के खिलाड़ी हरियाणा विशेष

खेल और प्रदेश के खिलाड़ियों से ही देश में हरियाणा की एक बड़ी पहचान बनी हुई है।

हरियाणा में खेल और खिलाड़ियों को और ज्यादा बढ़ावा देने के लिए खेल मंत्री अनिल विज ने एक बड़ा फैसला लिया है। विज ने ऐलान किया है कि प्रदेश में अब 600 खेल नर्सियां और खोली जाएंगी।

बता दें कि फिलहाल राज्य के सभी जिलों में करीब 440 नर्सरियां काम कर रही हैं। इन नर्सरियों में विद्यालय स्तर से बच्चों को खिलाड़ी बनाने का प्रशिक्षण दिया जाता है, ताकि भविष्य में यही बच्चे आगे चलकर देश का नाम रोशन करने वाले खिलाड़ी बने।

नर्सरियों में नियमित तौर पर अभ्यास करने वाले खिलाड़ियों को सरकार की ओर से 1500 से 2000 रुपये वजीफा दिया जाता है, ताकि खिलाड़ी अपनी जरूरतों को स्वयं पूरा कर सकें और उनके अभिभावकों पर अतिरिक्त बोझ न पड़े।

इसके साथ ही अब खिलाड़ियों की मांग पर ओलंपिक खेलों की तैयारियों के लिए विदेशी कोचों की सुविधा भीप्र दान की जाएगी, ताकि उन्हें मेडल जीतने में आसानी रहे।

राज्य में अभी तक करीब 400 ‘व्यायाम एवं योगशालाएं’ बनाई जा चुकी है, जबकि अन्य गांवों में और भी योगशालाएं तैयार की जा रही है। इन योगशालाओं में प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए योग- शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया चल रही है, जिनको शीघ्र ही नियुक्ति प्रदान की जाएगी। इसके लिए विज्ञापन जारी किया जा चुका है।

विज ने बताया कि हुड्डा सरकार के दौरान खेलों में नौकरी में भारी धांधली की गई थी। भूपेन्द्र हुड्डा आज खिलाड़ियों के शुभचिंतक बनने का असफल प्रयास कर रहे है, क्योंकि उनके शासन में न केवल खिलाड़ियों की वरिष्ठता को नजरअंदाज किया, बल्कि उनके हितों का भी हनन किया था।

उन्होंने कहा कि हुड्डा  सरकार के सताए खिलाड़ी आज हमारे पास आकर नौकरी के लिए आवेदन कर रहे है, क्योंकि कांग्रेस शासन में नौकरी केवल अपने चेहतों को बांटी गई थी। हमारी सरकार के दौरान बनाई गई खेल नीति के बाद ही ऐसे खिलाड़ियों के लिए नौकरी का रास्ता साफ हो रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *