Home Breaking गुरुग्राम में जंगली जानवर से दहशत का माहौल, सुबह भी मिले थे पंजों के निशान 

गुरुग्राम में जंगली जानवर से दहशत का माहौल, सुबह भी मिले थे पंजों के निशान 

0
0Shares

Manu Mehta, Yuva Haryana

Gurugram, 16 jan, 2019

गुरुग्राम में पिछले कुछ दिनों में तेंदूओं के प्रकार के जानवर को देखकर दहशत फैली हुई है। 3 दिन पहले फर्रुखनगर के पास कुछ गांवों में लोगों ने देखा, तो बुधवार की सुबह केएमपी के पास भी कुछ पंजों के निशान से लोगों में दहशत फैल गई।

दरअसल, गुरुग्राम में केएमपी एक्सप्रेस वे के नजदीक सैदपुर गांव में जब सुबह ग्रामीणों ने पंजे के निशान देखे, तो पूरे गांव में दहशत का सा महौल बन गया, जिसके बाद इसकी जानकारी वन विभाग के अधिकारियों को दी गई। मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने भी देखा कि जो पंजे मिट्टी में छपे हुए है वो किसी जानवर के ही हैं। जो तेंदूए के हो सकते हैं। उसके बाद इन पंजों के निशान के सैंपल मौके से लिए गए और वन विभाग ने उसकी जांच की, तो ये निशान लकड़बग्घा के निकले।

वहीं इससे पहले  फर्रुखनगर खंड के गांव धानावास में भी तेंदूआ नुमा कोई जानवर सीसीटीवी में कैद हुआ था। जिसके बाद लोगों को ये दहशत थी कि तेंदूआ है जो गांवों के नजदीक है। वन विभाग की टीम और वाइल्ड लाइफ के अधिकारियों ने लोगों से अपील की है कि इस तरह का कोई जानवर गांवों के आसपास नहीं है, जिससे दहशत में न रहे।

विभाग ने ये भी अपील की है कि कोई ऐसे जानवर नजर भी आए तो उसकी जानकारी विभाग को दें। विभाग की तरफ से कहा गया है कि लकड़बग्घा इस इलाके में है, जो जंगल से रिहाशी इलाकों में घुम रहा है। लेकिन लोग इससे डरे नहीं। ये पशुओं पर जरुर अटैक कर सकता है लेकिन इंसानों से ये दूर रहता है। उन्हें नुक्सान नहीं पहुंचाता है।

विभाग की टीम इसमें लगी हुई है और जल्द इससे पकड़ लेगी। हालांकि इससे पहले कई बार तेंदूओं की मौजूदगी भी गुरुग्राम के अरावली  के रिहाशी इलाकों में देखी गई है, लेकिन फिलहाल जो अफवाह है वो गलत है। विभाग की जांच में ये लकड़बग्घा निकलकर आया है। जिससे लोगों से अपील की है कि वो सतर्क रहे लेकिन अफवाह न फैलाएं।

 

 

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

किसानों के लिए राहत की खबर, FPO के तहत दी जाएगी 15 लाख तक की सहायता

Yuva Haryana, Chandigarh देश के किसा…