15 वर्षीय अनीश ने CWG में रचा इतिहास, जानिये कौन हैं अनीश भनवाला ?

Uncategorized

Yuva Haryana
Chandigarh

हरियाणा के छोरे ने एक बार फिर से प्रदेश का नाम पूरी दुनिया में रोशन किया है  करनाल के रहने वाले अनीश भनवाला ने कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीता है।

अनीश ने 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल में देश के लिए गोल्ड मेडल जीता है। 15 साल के अनीश ने गोल्ड तो जीता ही है लेकिन साथ ही उन्होने सबसे कम उम्र में गोल्ड मेडल अपने नाम करने का रिकॉर्ड भी बनाया है।

कौन हैं निशानेबाज अनीश भनवाला ?

अनीश भनवाला मूल रुप से हरियाणा के सोनीपत जिले के कासंढी गांव के रहने वाले हैं। अनीश का जन्म 26 सितंबर 2002 को हुआ था । अब अनीश का परिवार करनाल के सेक्टर 6 में रहता है और करनाल के कान्वेंट स्कूल में अनीश की पढ़ाई चल रही है. वहीं अनीश की बहन मुस्कान भी शूटिंग गेम में है।

अनीश के दादा यशवंत सिंह और जयसिंह ठेकेदार को जैसे ही गोल्ड जीतने की जानकारी मिली तो वो खुशी के मारे फूले नहीं समाए। अनीश के परिवार में कोई भी इस खेल से ताल्लुक नहीं रखता था। अनीश के पिता जगपाल भनवाला करनाल में एडवोकेट हैं।

पिता ने अनीश के लिए उधार ली थी पिस्टल

करनाल शूटिंग रेंज में अभ्यास करने के लिए इनके पिता ने पिस्टल तक उधार ली थी। 2014 में बेटे के बेहतर करियर के लिए पूरा परिवार हरियाणा से दिल्ली आ बसा, जहां उसे बेहतर ट्रेनिंग मिल सके।

 

अनीश भनवाला ने बनाए दो बड़े रिकॉर्ड

अनीश ने कॉमनवेल्थ गेम्स में पदार्पण करते ही दो नए रिकॉर्ड भी कायम कर दिए। एक, अनीश ने 2014 में ग्लाग्सो में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स में आस्ट्रेलिया के डेविड चापमान की ओर से बनाए रिकॉर्ड को तोड़ दिया। दूसरा, अनीश सबसे कम उम्र में गोल्ड मेडल जीतने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बन गए हैं। उन्होंने मनु भाकर का रिकॉर्ड तोड़ा। मनु ने इन्हीं गेम्स में 16 की उम्र में गोल्ड जीतने का कारनामा किया था।

 

कॉमनवेल्थ में सबसे कम उम्र के पुरुष खिलाड़ी

अनीश भनवाला ने विदेशों में भी अपना रिकॉर्ड स्थापित किया है. अनीश भनवाला ने कॉमनवेल्थ गेम्स में विश्व में सबसे कम उम्र के खिलाड़ी भी बन गए हैं. उनसे कम उम्र की दो महिला खिलाड़ी ही हैं। पुरुषों में रिकॉर्ड के मुताबिक अनीश की सबसे कम उम्र के खिलाड़ी हैं।

 

अनीश भनवाला की उपलब्धियां >>>

कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड कोस्ट, ऑस्ट्रेलिया-2018 में 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल में गोल्ड मेडल जीता।

कॉमनवेल्थ चैम्पियनशिप-2017, ऑस्ट्रेलिया में 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल में सिल्वर मेडल जीता था।

ISSF वर्ल्ड चैम्पियनशिप-2017 में 25 मीटर स्टैंडर्ड पिस्टल जूनियर प्रतियोगिता में  गोल्ड मेडल जीता था।

ISSF वर्ल्ड चैम्पियनशिप-2017 में 25 मीटर पिस्टल जूनियर मेन्स टीम में गोल्ड मेडल जीता था।

ISSF वर्ल्ड चैम्पियनशिप-2017 में 25 मीटर पिस्टल जूनियर मेन्स प्रतियोगिता में सिल्वर मेडल जीता था।

ISSF वर्ल्ड चैम्पियनशिप-2017 में 25 मीटर स्टैंडर्ड पिस्टल जूनियर मेन्स टीम में सिल्वर मेडल जीता था।

ISSF वर्ल्ड चैम्पियनशिप-2017 में 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल जूनियर मेन्स टीम में ब्रॉन्ज मेडल जीता था।

ISSF वर्ल्ड कप-2017, सिडनी में 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल जूनियर प्रतियोगिता में  गोल्ड मेडल जीता था।

ISSF वर्ल्ड कप-2017, सिडनी में 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल जूनियर मेन्स टीम में सिल्वर मेडल जीता था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *