पहले भी CM तक पहुंच चुकी है IAS सुनील गुलाटी के खिलाफ शिकायत, महिला IFS अधिकारी ने बीते साल जुलाई में भेजी दी दुर्व्यवहार के खिलाफ चिट्ठी

Breaking Uncategorized अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा

Chandigarh, Yuva Haryana

हरियाणा के आईएएस अधिकारी आजकल चर्चा में हैं। पहले एक महिला कर्मचारी ने एचसीएस अधिकारी रीगल कुमार के खिलाफ छेड़छाड़ की एफआईआर दर्ज करवाई थी और बीते सप्ताह से आईएएस रानी नागर की अतिरिक्त मुख्य सचिव सुनील गुलाटी के खिलाफ सोशल मीडिया पर लिखी शिकायत सुर्खियों में है।

इस मामले में हरियाणा महिला आयोग रानी नागर और सुनील गुलाटी दोनों को बुलाकर उनका पक्ष जान चुका है।

अब एक और पत्र सामने आया है जिसमें एक महिला IFS अफसर के साथ सुनील गुलाटी की तरफ से दुर्व्यवहार किए जाने का जिक्र है। इंडियन फॉरेस्ट सर्विस एसोसिएशन की ओर से मुख्यमंत्री मनोहर लाल को लिखे गए इस पत्र में लिखा गया है कि सुनील गुलाटी द्वारा दुर्व्यवहार की शिकायत IFS MH Renjhita ने 5 जुलाई 2017 को मुख्यमंत्री को चिट्ठी लिखकर की थी। जिसके बाद एसोसिएशन ने भी बाकायदा चिट्ठी लिखकर मुख्यमंत्री से इस शिकायत को गंभीरता से लेने को कहा था।

एसोसिएशन के लिखा था कि सुनील गुलाटी का व्यवहार कर्मचारियों के साथ सही नहीं है और वे महिला कर्मचारियों से भी अभद्रता से पेश आते हैं। चिट्ठी में महिला अधिकारी से गाली गलौच और गलत शब्दों का इस्तेमाल किए जाने का भी जिक्र है। एसोसिएशन के महासचिव ने मुख्यमंत्री को लिखा था कि ऐसा व्यवहार स्वीकार्य नहीं है और सरकारी कार्यालयों का माहौल बिगाड़ रहा है।

अतिरिक्त मुख्य सचिव स्तर के वरिष्ठ अधिकारी सुनील गुलाटी के खिलाफ इसके अलावा भी कई मामले चर्चा में हैं। खास बात यह भी है कि उन पर आरोप लगाने वाली IAS रानी नागर के बारे में भी करीब 20 ऐसे मामले चर्चा में हैं जिनमें उन्होंने अपने आसपास या स्टाफ के लोगों के खिलाफ शिकायत की है। यह भी दिलचस्प है कि इन शिकायतों में से ज्यादातर किसी अंजाम तक नहीं पहुंची। जुलाई 2017 मुख्यमंत्री को की गई महिला IFS की शिकायत पर भी कोई विशेष कार्रवाई होने की जानकारी भी नहीं सामने आई है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *