जानिए एक मां ने किस तरहा UPSC की परीक्षा में टॉप किया

Breaking चर्चा में दुनिया देश बड़ी ख़बरें शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Panchkula, 29 April, 2018

UPSC की परीक्षा में हरियाणा के सोनीपत की बेटी अनु कुमारी ने दूसरा स्थान हासिल कर पूरे प्रदेश का नाम चमकाया है। शादीशुदा और एक 4 साल के बच्चे की मां होने के बावजूद अनु ने ये मुकाम हासिल किया है। अपनी इस उपलब्धि पर अनु ने कहा कि मेरे लिए ये एक सपने जैसा है। इसके लिए वो दिन में 10 से 12 घंटे पढ़ाई करती थीं। इस सफलता से वह बेहद खुश हैं और साथ ही IAS बनकर वो समाज में महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए काम करना चाहती हैं। रिजल्ट के बाद से ही अनु के घर बधाईयों का तांता लगा हुआ है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने भी अनु को ट्वीट कर बधाई दी है।

कौन है अनु कुमारी –

हरियाणा के सोनीपत में जन्मी 31 वर्षीय अनु की शादी एक बिजनेसमैन से हुई थी। किसान परिवार से संबंध रखने वाली अनु ने एक अच्छी गृहनी और एक अच्छी मां होने के साथ- साथ प्रदेश को भी गौरवान्वित किया है। कहते है कि शादी के बाद एक महिला की जिंदगी सिर्फ उसकी गृहस्ती तक ही सिमित रहती है, लेकिन इस बेटी ने लोगों की सोच को गलत सिद्ध कर ये साबित कर दिया है कि अपने सपनों की उड़ान भरने का जज्बा हो तो सभी कठिनाईयां दूर हो जाती है।

कहां से की पढ़ाई –

हरियाणा की इस बेटी ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के हिन्दू कॉलेज से फिजिक्स में ग्रेजुएशन किया है। इसके बाद अनु ने नागपुर से MBA  कर गुरुग्राम में एक कंपनी में नौकरी भी की। पहले से ही अनु का सपना सिविल सेवा में जाना था, इसलिए उसने नौकरी छोड़ UPSC की तैयारी शुरू कर दी थी। अपने लक्ष्य को पाने के लिए अनु ने कढ़ी मेहन की है, जिसके चलते उन्होंने बच्चे को भी खुद से ढ़ेड साल दूर रखा।

जानिए अनु की कहानी उन्हीं की जुबानी –

मैं एक किसान परिवार से संबंध रखती हूं। पढ़ाई पूरी होने के बाद 9 साल मैंने नौकरी की, जिसके बाद पढ़ाई से पूरे तरीके से मेरा संबंध टूट चुका था। इतने सालों बाद एक बड़ी परीक्षा पास करना काफी चुनौती भरा था। इस बीच शादी हो गई, तो सिर पर ज्यादा जिम्मेदारियां आईं। घर वालों का ध्यान रखने के साथ बच्चों का पालन- पोषण भी उतना ही जरूरी था, जितना मेरे सपनों की उड़ान भरना। लेकिन इसके बाद भी अपना मकसद नहीं भूली क्योंकि मैं हमेशा से अपने देश की सेवा करना चाहती थी। अपनी इस सफलता से बेहद खुश हूं। यकीन ही नहीं होता की मैंने ये परीक्षा पास कर ली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *