विधानसभा चुनावों में मिली हार के चलते नहीं आए अमित शाह, करारी हार से ट्रेलर देख फुर्र हुए शाह- अशोक तंवर

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Suren Sawant, Yuva Haryana

Sirsa, 14 Dec, 2018

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर ने गीता जयंती समारोह में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के न आने पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में मिली हार के चलते अमित शाह हरियाणा में नहीं आए। करारी हार से ट्रेलर देखकर शाह फुर्र हुए हैं। सिरसा में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि 3 राज्यों में सरकार बनना कांग्रेस के लिए शुभ संकेत है। 2019 में निश्चित रूप में पूरे देश में बदलाव की बयार बहेगी।

जननायक जनता पार्टी के गठन पर चुटकी लेते हुए अशोक तंवर ने कहा कि चश्मे के टुकड़े हुए हैं लेकिन चश्मा, चश्मा ही है। बुनियादी कीड़े हैं, वह कायम रहेंगे। उन्होंने कहा कि बसपा प्रमुख मायावती के कांग्रेस को समर्थन देने का हरियाणा कांग्रेस से अब तक कोई सरोकार नहीं है। हरियाणा में बसपा को लेकर निर्णय पार्टी का शीर्ष नेतृत्व करेगा। मौजूदा परिस्थितियों में हरियाणा में कांग्रेस मजबूत है। लोकसभा की 10 सीटों पर कांग्रेस उम्मीदवार अपनी जीत दर्ज करेंगे।

नगर निगम चुनाव में कांग्रेस समर्थित उम्मीदवारों की जीत का दावा भी अशोक तंवर ने किया। मुख्यमंत्री के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री और भाजपा को दबाने का नहीं भगाने का प्रयास हो रहा है। सिंबल पर चुनाव न लड़ना कांग्रेस का डर नहीं है । अशोक तंवर ने कहा कि वरिष्ठ नेताओं के निर्णय के कारण सिंबल पर चुनाव नहीं लड़ा गया।

सिंबल पर लड़ते तो निश्चित रूप से सभी सातों जगह कांग्रेस को जीत मिलती। उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं का भी आह्वान किया कि जन-जन तक पार्टी की नीतियों को पहुंचाएं। साइकिल पर चले या पैदल कांग्रेस की नीतियों का प्रचार करें । कांग्रेस नेता ने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस लगातार मजबूत हुई है।कांग्रेस के अलावा सभी पार्टियां इस समय बैकफुट पर है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *