हिसार के गांव असरावां की सरपंच को उपायुक्त ने किया बर्खास्त

Breaking बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा

Yuva Haryana

Hisar

हिसार के उपायुक्त अशोक मीणा ने कथित रूप से फर्जी मार्कशीट के आधार पर सरपंच बनी असरावां गांव की सरपंच राजबाला को तुरंत प्रभाव से बर्खास्त कर दिया है। वह कुछ समय से सस्पेंड चल रही थीं। राजबाला के खिलाफ गांव के ही एक निवासी राजीव ने शिकायत की हुई थी।

शिकायतकर्ता राजीव का कहना है कि महिला सरपंच ने चुनाव लड़ने के लिए बठिंडा के एक स्कूल के मालिक से आठवीं की फर्जी मार्कशीट बनवाई थी, और स्कूल मालिक ने सुप्रीम कोर्ट में इस बात को स्वीकार भी कर लिया है।

राजीव ने बताया कि जब उन्होंने सरपंच की आठवीं की मार्कशीट के लिए आरटीआई लगाई तो मार्कशीट फर्जी होने का खुलासा हुआ। राजीव ने इसकी शिकायत जिला उपायुक्त, पंचायत एवं विकास अधिकारी तथा जिला पुलिस अधीक्षक सहित अन्य उच्च अधिकारियों से की, जिस पर जिला उपायुक्त द्वारा मामले की पूरी जांच के आदेश दिए और राजबाला को सस्पेंड किया गया। राजबाला के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया।

इस मामलें में राजबाला ने सुप्रीम कोर्ट का सहारा लिया जिसमें फर्जी मार्कशीट संबंधी बात सामने आई। स्कूल संचालक ने 28 हजार रुपये में फर्जी मार्कशीट देने की बात स्वीकार की है। वहीं इस मामले में जनता मिडिल स्कूल की मान्यता को रद्द किया जा चुका है।