हरियाणा के कृषि विभाग को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया सम्मानित

Breaking खेत-खलिहान चर्चा में देश बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana

हरियाणा कृषि विभाग को आज विशेष रूप से तिलहन संवर्धन और उत्पादन के तहत उल्लेखनीय सफलता प्राप्त करने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने सम्मानित किया।हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री, जय प्रकाश दलाल ने आज बेंगलुरु में आयोजित 2017-18 के लिए तिलहन श्रेणी में सराहनीय पुरस्कार समारोह में पुरस्कार प्राप्त किया। पुरस्कार में एक प्रशस्ति पत्र और एक करोड़ रुपये की राशि शामिल थी।

इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए, कृषि और किसान कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव संजीव कौशल, जो पुरस्कार समारोह में कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री के साथ उपस्थित थे, ने कहा कि विभाग ने तिलहन फसलों के उत्पादन को बढ़ाने के लिए कई पहल की हैं। विशेष रूप से हरियाणा में सरसों की फसल का रकबा राज्य में 5.10 लाख हेक्टेयर से लेकर 6.36 लाख हेक्टेयर के बीच है।

अब इनको मिलेगी आधे रेट पर बिजली, मनोहर सरकार ने लिया फैसला

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने किसानों को पारिश्रमिक मूल्य प्रदान करने के लिए कई बड़े कदम उठाए हैं और साल 2016-17 के दौरान राज्य में पहली बार सरसों की खरीद शुरू की है और यह आज तक जारी है। प्रारंभ में, भारत सरकार द्वारा निर्धारित एमएसपी में मूल्य समर्थन योजना के तहत 37000 एमटी सरसों की खरीद की गई थी, साल 2017-18 के दौरान, 2.69 एलएमटी सरसों की कुल खरीद की गई थी और साल 2018-19 के दौरान इसे बढ़ाकर 6.19 एलएमटी कर दिया गया है।

किसानों के लिए राहत की खबर, ट्यूबवैल कनेक्शन लगने हुए शुरु

उन्होंने कहा कि 2016-17 (9.35 एलएमटी) की तुलना में 2017-18 (11.08 एलएमटी) के दौरान सरसों के उत्पादन में काफी वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि 2016-17 (1850 किलोग्राम / हेक्टेयर) की तुलना में 2017-18 (2018 केजी / हेक्टेयर) के दौरान सरसों की औसत उपज में काफी वृद्धि हुई है। इसके अलावा, तिलहन के तहत बीज प्रतिस्थापन दर बढकऱ 99.82 प्रतिशत हो गई।

उन्होंने कहा कि कृषि विभाग ने कम उत्पादकता वाले ब्लॉकों के लिए विशिष्ट कार्यक्रम शुरू किया। किसानों को नवीनतम पैकेज और नई किस्मों, नए उर्वरक प्रबंधन और एकीकृत कीट और रोगों के प्रबंधन के बारे में बताया गया है।

रिक्शा चालक के बच्चों से लेकर IIM-IIT पास बने HCS अफसर, किसानों के बच्चे भी HCS में पास

उन्होंने कहा कि किसानों को बिजली, पानी की आपूर्ति और ऋण सुविधा सुनिश्चित करने के लिए, विभाग ने अग्रिम रूप से विभिन्न बैठकों के माध्यम से बिजली, सिंचाई और सहयोग जैसे अन्य विभागों के साथ बेहतर तरीके से समन्वय किया है।

उन्होंने कहा कि किसानों को 11.93 लाख किसान क्रेडिट कार्ड जारी किए गए और 2017-18 के दौरान किसानों को 9898.3 करोड़ रूपए का फसली ऋण जारी किया गया।  कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के निदेशक श्री चंदर शेखर खरे भी इस अवसर पर उपस्थित हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *