हरियाणा में शिक्षकों को बड़ी सौगात, 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों को किया लागू

Breaking Uncategorized चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana

Chandigarh, 03 August, 2018

हरियाणा सरकार ने प्रदेश के विश्वविद्यालयों और सरकारी एवं एडेड कॉलेजों के शिक्षकों, कुलसचिवों, पुस्तकालयध्यक्षों, कुलपतियों और खेल निदेशकों के लिए सातवें वेतन आयोग को मंजूरी दे दी है. उन्हें यह लाभ 1 जनवरी 2016 से मिलेगा. यह जानकारी हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने दी. वेतन वृद्धि से प्रदेश के विभिन्न कालेजों और विश्वविद्यालयों में 5809 पदों पर कार्यरत शिक्षकों और गैर शिक्षकों को लाभ होगा।

वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने बताया की सातवां वेतनमान लागू हो जाने के बाद विश्विद्यालयों और महाविद्यालयों के असिस्टेंट प्रोफेसर्स को 57 हज़ार 700 रूपये से लेकर 79 हज़ार 800, एसोसिएट प्रोफेसर्स को 1 लाख 31 हज़ार 400 रूपये और प्रोफेसर्स को 1 लाख 44 हज़ार 200 रूपये से लेकर 1 लाख 82 हज़ार 200 वेतनमान मिलेगा. विश्विद्यालयों और महाविद्यालयों के असिस्टेंट लाइब्रेरियन को 57 हज़ार 700 रूपये से लेकर 68 हज़ार 900 रूपये, डिप्टी लाइब्रेरियन को 79 हज़ार 800 रूपये से लेकर 1 लाख 31 हज़ार 400 रूपये और लाइब्रेरियन को 1 लाख 44 हज़ार 200 रूपये वेतन मिलेगा।

उन्होंने बताया की विश्विद्यालयों और महाविद्यालयों के फिजिकल एजुकेशन और स्पोर्ट्स विभागों के एसिस्टेंट डायरेक्टर को 57 हज़ार 700 रूपये से लेकर 68 हजार 900 रूपये, डिप्टी डायरेक्टर को 79 हज़ार 800 रूपये से लेकर 1 लाख 31 हज़ार 400 रूपये और डायरेक्टर को 1 लाख 44 हज़ार 200 रूपये वेतनमान मिलेगा. वित्त मंत्री ने बताया की अब विश्विद्यालयों और महाविद्यालयों के रजिस्ट्रार और एग्जाम कंट्रोलर्स को 1 लाख 44 हज़ार 200 रूपये, डिप्टी रजिस्ट्रार और डिप्टी एग्जाम कंट्रोलर्स को 79 हज़ार 800 रूपये और असिस्टेंट रजिस्ट्रार और असिस्टेंट एग्जाम कंट्रोलर्स को 56 हज़ार 100 रूपये वेतनमान मिलेगा. उन्होंने बताया की अब प्रो वाइस चांसलर्स और वाइस चांसलर्स को भी सातवें वेतन आयोग के अनुसार वेतनमान मिलेगा. उन्होंने बताया की अब स्नातकोत्तर कॉलेजों के प्राचार्यों का वेतन 1 लाख 44 हज़ार 200 रूपये होगा।

कैप्टन अभिमन्यु ने बताया की हरियाणा के सरकारी कॉलेजों में 1990, सरकारी एडेड कॉलेजों में 2956, कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय, कुरुक्षेत्र में 332, महर्षि दयानंद विश्विद्यालय, रोहतक में 287, चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय, सिरसा में 64, चौधरी बंसीलाल विश्वविद्यालय, भिवानी में 12, चौधरी रणबीर सिंह विश्वविद्यालय, जींद में 18, भगत फूल सिंह महिला विश्वविद्यालय, खानपुर कलां, सोनीपत में 116 और इंदिरा गाँधी विश्वविद्यालय, रेवाड़ी में 34 पदों पर कार्यरत शिक्षकों और गैर शिक्षकों को वेतन बढौतरी का लाभ मिलेगा. इसकी वजह से सरकार पर सालाना 230.6 करोड़ का अतिरिक्त भार पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *