फ्यूचर मेकर को एक तरफ बड़ी राहत, तो दूसरी तरफ सामने आई नई आफत

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 13 Sept, 2018

हरियाणा समेत कई राज्यों के लोगों को करोड़ों रुपये इक्कट्ठा कर डबल करने का झांसा देने वाली कंपनी फ्यूचर मेकर को एक तरफ जहां बड़ी राहत मिली है तो दूसरी तरफ एक बड़ी आफत भी सामने आ गई है।

दरअसल तेलंगाना में जहां फ्यूचर मेकर के गिरफ्तार सीएमडी राधेश्याम और सुंदर सिंह के रिमांड की याचिका कोर्ट ने खारिज कर दी तो दूसरी तरफ हिसार में दर्ज मामले की जांच एसआईटी को दे दी गई है। इतना ही नहीं अब सभी तहसीलदारों को फ्यूचर मेकर की प्रॉपर्टी भी किसी को ट्रांसफर ना करने के आदेश दिये हैं।

जानकारों की माने तो फ्यूचर मेकर कंपनी के लाखों निवेशक है लेकिन कंपनी के खातों में पैसे भी हैं जिस वजह से कंपनी के निवेशकों को उनका लिया हुआ पैसा लौटाया भी जा सकती है, लेकिन वो एक कानूनी प्रक्रिया के तहत ही संभव है। इतना ही नहीं कंपनी के अधिकारियों की प्रॉपर्टी को भी अटैच किया जा सकता है और उसे भी निवेशकों के पैसे दिये जा सकते हैं।

हालांकि तेलंगाना पुलिस ने कंपनी के सीएमडी राधेश्याम के सीसवाल स्थित आवास पर छापेमारी की थी लेकिन वहां से कुछ नहीं मिला था लेकिन सूत्रों की माने तो राधेश्याम की प्रॉपर्टी को अटैच किया जा सकता है और निवेशकों के पैसे लौटाए जा सकते हैं।

इधर हिसार में रेड स्कवायर मार्केट में लगातार देश के कोने-कोने से निवेशकों के साथ-साथ कंपनी में पैसे लगवाने वाले एजेंट भी पहुंच रहे हैं जो कंपनी के दफ्तर का खुलने का इंतजार कर रहे हैं।

वहीं हिसार के आसपास जिन जगहों पर एजेंटों ने जिन लोगों के पैसे फ्यूचर मेकर कंपनी में लगवाए थे उनको लेकर पंचायतें भी हो रही है और कुछ जगहों पर फ्यूचर मेकर कंपनी के एजेंट पैसे वापस लौटा रहे हैं।

आपको बता दें कि कंपनी की तरफ से यह स्कीम थी कि कंपनी में एकमुश्त 7500 रुपये लगाने होंगे जिसके बाद कंपनी 2500 रुपये प्रतिमाह के हिसाब से निवेशक को जीवन भर देगी। इस स्कीम के साथ-साथ जो आगे किसी और के पैसे कंपनी में लगवाता था उसको 500 रुपये प्रति निवेशक के हिसाब से कमीशन भी हर महीने दिया जाता था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *