बीरेंद्र सिंह ने जाट आरक्षण को लेकर दिया बड़ा बयान, जानिये क्या बोले ?

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana, Delhi

पूर्व केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह ने आज दिल्ली में प्रेस कॉन्फेंस कर साफ कर दिया है कि वो अब राजनीति में रहेंगे लेकिन चुनाव नहीं लड़ेंगे। उन्होंने बताया कि राज्यसभा से उनका इस्तीफा मंजूर हो गया है। उन्होंने यह भी बताया कि मैंने अपना इस्तीफा बहुत पहले सौंप दिया था, लेकिन अब दो दिन पहले ही मेरा इस्तीफा मंजूर किया गया है।

बीरेंद्र सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि पार्टी ने मेरे बेटे को टिकट देने का जो वादा किया था वह निभाया और अब मैंने अपना इस्तीफा मंजूर कराकर पार्टी के लिए किया गया वादा निभाया है। उन्होंने कहा कि वो संगठन में जिम्मेदारी चाहते हैं। बीरेंद्र सिंह ने कहा कि हरियाणा ही नहीं बल्कि राजस्थान, पंजाब और अन्य राज्यों के संगठन में भी वो काम कर सकते हैं।

जाट आरक्षण के मामले में बीरेंद्र सिंह ने कहा कि कोर्ट में छह जातियों के लिए आरक्षण देने का निपटाया जाए। 3% आरक्षण की जगह 50‌ आरक्षण की सीमा के तहत बची है, 3 प्रतिशत में 6 जातियों को हरियाणा सरकार आरक्षण दें‌
ताकि केंद्रीय स्तर पर भी मिल सके। उन्होंने बताया कि जाटों को आरक्षण ‌की जरूरत गुर्जर और अहीरों की ह‌ी तरह है
इस तरह की जातियों का रहन‌ सहन और इतिहास एक जैसा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *