आपसी भाईचारा खत्म करने की राजनीति करती है भाजपा – दुष्यंत चौटाला

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Chandigarh, 30 August 2019 

पूर्व उपप्रधानमंत्री देवीलाल की राजनीतिक कर्मभूमि रही महम में इस बार जननायक जनता पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ताऊ की जयंती मनाएगी। 25 सिंतबर को होने वाली इस जयंती में बसपा प्रमुख मायावती सहित देश प्रदेश के कई दिग्गज शिकरत करेंगे।

पूर्व सांसद  दुष्यंत चौटाला ने कहा कि गठबंधन ने इन चुनावों में मजबूती से उतरने का ऐलान करते हुए भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने का संकल्प लिया गया है।

पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेश के गांव-गांव, गली-गली घूम रहा हूं और अब तक 35 से भी ज्यादा विधानसभा व दस के करीब जिलों में जा चुका हूँ। किसी भी गांव या क्षेत्र में बीजेपी की लहर नहीं है। बीजेपी जिसे अपनी लहर बता रही है हकीकत में वह लहर नहीं बल्कि आर्टिफिशियल वेव है। विधानसभा चुनावों से पहले ही यह वेव छूमंतर हो जाएगी और प्रदेश में जेजेपी-बसपा का तूफान आएगा जिसमें अन्य सभी दल धराशायी हो जाएंगे।

वहीं जेजेपी दुष्यंत चौटाला ने सरकार को हर मोर्चे पर घेरते हुए कहा कि प्रदेश का बच्चा-बच्चा जानता है कि भाजपा के राज में 80 से ज्यादा लोगों को सरकारी गोली से मरवाया गया है। हरियाणा के हालात भाजपा ने तो ऐसे कर दिए थे मानो जम्मू-कश्मीर की तरह यहां भी आंतकवादी रह रहे हों। यह तो भला हो प्रदेश की 36 बिरादरी का जिसने जात-पात से उपर उठ कर आपसी भाईचारे को कायम किया।

उन्होंने कहा कि बेरोजगारों को रोजगार देने का वायदा कर सत्ता में आई भाजपा अब अपने वायदे से विमुख होकर युवाओं से निजी क्षेत्र से नौकरिया छीन रही है। सत्ता में आते ही प्रदेश की हर फैक्टरी में 75 प्रतिशत हरियाणा के युवाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने का कानून बनाया जाएगा। उन्होंने दिल्ली में अनुसचित समाज के लोगों पर हुए लाठीचार्ज की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि संत शिरोमणि गुरू रविदास का मंदिर तोडऩा गलत है।

उन्होंने कहा कि आज मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बुजुर्गों को बार-बार बैकों के चक्कर लगवाकर कर ताऊ देवीलाल की सम्मान पेंशन को अपमान पेंशन बना दिया है। चौधरी देवीलाल ने बुजुर्गों को पेंशन के रूप में 100 रुपए घर बैठे देने की शुरूआत करके उनका सम्मान किया था लेकिन उस सम्मान पेंशन को आज इस खट्टर सरकार ने अपमान पेंशन बना दिया है।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हालात ये है कि आज भाजपा राज में बुढापा पेंशन के लिए बुजुर्ग दो-दो महीने से इंतजार कर रहे है। और बुजुर्ग सुबह जाकर बैंक में लाइनों में लगते है लेकिन उसके बावजूद भी उन्हें पेंशन न देकर सरकार बुजुर्गों का घोर अपमान कर रही है।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेश में जेजेपी और बसपा पार्टी के गठबंधन होने विरोधी दलों की नींद उड़ी हुई है। बसपा-जेजेपी गठबंधन प्रदेश के लोगों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए किया गया है और लोगों की भावनाओं के अनुरूप प्रदेश में गठबंधन की सरकार बनाएगी।

पूर्व सांसद ने कहा कि सत्ता की चाबी हाथी लेकर चलेगा और जनसहयोग से चंडीगढ़ में सत्ता का ताला खोलेगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी को सत्ता में आने का कुछ ज्यादा ही घमंड हो रहा है और इस घमंड में चूर होकर प्रदेश के युवाओ को प्रताडि़त कर रही है।

उन्होंने गठबंधन कार्यकर्ताओं को सचेत करते हुए कहा कि सत्ता इतनी आसान नहीं है, इसके लिए हर कार्यकर्ता को आने वाले 50 दिनों में कड़ी मेहनत करनी होगी। और 25 सिंतबर को महम में होनी वाली रैली के लिए कार्यकर्ता कड़ी  में स्थापित मारूति जैसी आटोमोबाईल कंपनियां हजारों लोगों को बाहर का रास्ता दिखाने को मजबूर हो गई और सरकार यह कहकर अपनी पीठ थपथपाने में लगी है कि भाजपा की अगुवाई में देश आगे बढ़ रहा है।

जेजेपी नेता दुंष्यत चौटाला ने जजपा-बसपा के पदाधिकारियों में जोश भरते हुए कहा कि अब ताऊ देवीलाल और कांशीराम जी के सपने साकार करने का सही वक्त आ गया है। भाजपा सरकार कई सालों से झूठ बोलकर देश-प्रदेश को लूट रही है, अनुसूचित समेत तमाम वर्गों के साथ खिलवाड़ और महिलाओं का अपमान कर रही है। दोनों पार्टियों के पदाधिकारियों से  आह्वान करते हुए कहा कि सभी अपने विजन को जन-जन तक पहुंचाए ताकि प्रदेश की जनता को इस भाजपा सरकार से मुक्ति मिले।

वहीं बसपा नेता एडवोकेट गुरमुख सिंह ने कहा कि भाजपा ने जात-पात का जहर फैला कर आपसी भाईचारे को खत्म करने के सिवाय कोई जन हित का काम नहीं किया है। और जेजेपी-बीएसपी 90 सीटों पर मिलकर मजबूती से चुनाव लड़ेगी और इस जन विरोधी भाजपा को करारा जवाब देगी।  बीएसपी जेजेपी के गठबंधन से विपक्षियों की नींद उड़ी हुई है। दोनों दलों के पदाधिकारी गांव गांव,घर घर जाकर भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों के बारे में लोगों को बताएं।

इस मौके पर जिला अध्यक्ष व पूर्व विधायक पदम सिंह दहिया डॉ. केसी बांगड़, बसपा जिला अध्यक्ष सतबीर रंगा राजकुमार रिढाऊ, बबीता दहिया, सुमित राणा, रमेश खटक, रामचंद्र देशवाल, संजय मलिक, रामकिशन तुषीर, सुरेश दहिया, संदीप राणा, कुलदीप मलिक,  ओमप्रकाश रसोई राजवीर मलिक रवि दहिया, नरेन्द्र गहलावत, राजू भठगाँव, रणबीर दहिया, कृष्ण गोपाल त्यागी, अनिल भारद्वाज, एडवोकेट गजे सिंह रमेश गुप्ता धर्मपाल राठी अंजू बाला खटक पंडित राम प्रसाद चंद्रसेन रंगा सरिता ग्रोवर मुकेश बागड़ी अमित बिंदल रामकुमार नरेश राजेश एडवोकेट सुशील अमित आंतिल, प्रदीप बड़वासनी, राकेश मलिक आंवली,  अजीत तुषीर, बिजेन्द्र आंतिल, अजीत आंतिल, राममेहर राठी, राकेश चहल, शुभम नैन, दीपक मलिक, अशोक जवाहरा, रितेश शर्मा, महिपाल लाठ अमित मोर टीसी दहिया अशोक सरोहा आदि लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *