बीजेपी के पूर्व मंत्रियों ने हार के गिनाए ये कारण, देखिये किसने क्या कहा ?

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

हरियाणा में बीजेपी के दिग्गजों को हारने के बाद अब मंथन शुरु हो गया है। शुक्रवार को पूरे दिन चंडीगढ़ में भाजपा के दिग्गज नेताओं के हार के कारणों में मंथन होता रहा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की तरफ से पिछली कैबिनेट की बैठक बुलाई गई थी जिसमें हार के कारणों पर मंथन हुआ। इस दौरान हारे हुए कुछ पूर्व मंत्री चुप रहे तो कुछ ने हार का अलग-अलग जगह पर ठीकरा फोड़ा।

हरियाणा के विधानसभा चुनाव में इस बार पूर्व में कैबिनेट मंत्री रहे लगभग सभी नेता चुनाव हार गए हैं जिस वजह से भाजपा को संकट की स्थिति का सामना करना पड़ा, ऐसे में अब भाजपा ने हार के कारणों पर मंथन शुरु किया है।

 

पूर्व मंत्रियों ने बताए हार के ये कारण

जाट समुदाय का भाजपा से नाराजगी

किसानों की भाजपा सरकार से नाराजगी

दिल्ली में संत रविवास का मंदिर टूटना

बीपीएल कार्ड धारकों को प्लाट और मकान ना मिलना

शहरी क्षेत्रों में भाजपा की जीत सुनिश्चित मानकर वोट डालने ही ना निकलना

व्यक्तिगत विकास कार्यों का ना होना

मोटर व्हीकल एक्ट के तहत चालान के कारण वोट बैंक खिसकना

कर्मचारियों की नाराजगी सबसे बड़ा कारण

 

जानिये किस मंत्री ने क्या बताया कारण

1.. सुभाष बराला ने बैठक में चुप्पी साधे रखी, उन्होने किसी प्रकार से हार का ठीकरा किसी के सिर नहीं फोड़ा।

2. ओपी धनखड़ ने जाट आरक्षण आंदोलन को कारण बताया और जाटों की नाराजगी को सबसे बड़ा मुद्दा बताया। धनखड़ के मुताबिक जाटों का विश्वास नहीं रहा जिस वजह से हार हुई।

3. करणदेव कंबोज ने पिछड़ों के विश्वास टूटने के कारण हार का कारण बताया, साथ ही अपना हलका बदल देने की वजह से भी हार का कारण माना।

4. कविता जैन ने प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रशासन ने बिल्कुल भी सहयोग नहीं किया, बल्कि कांग्रेस प्रत्याशी ने पैसे देकर काफी ज्यादा संख्या में वोट खरीदे, जिस वजह से हार हुई।

5. पूर्व वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा के सही ढंग से विपक्षी दलों को ना घेर पाने का कारण बताया।

6. कृष्ण कुमार बेदी ने रविदास मंदिर के तोड़े जाने का कारण बताया। उनके मुताबिक दिल्ली में रविदास का मंदिर तोड़े जाने के बाद काफी संख्या में वोटर नाराज हुए।

7. कृष्णलाल पंवार ने जाटों के गुस्से की वजह से हार का कारण बताया।

8. मनीष ग्रोवर ने कहा कि हम कांग्रेस की वजह से नहीं हारे बल्कि भाजपाइयों की वजह से हमारी हार हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *