Home Breaking इनेलो से गठबंधन की चिट्ठी को फाड़कर कूड़ेदान में फेंक दिया है- बराला

इनेलो से गठबंधन की चिट्ठी को फाड़कर कूड़ेदान में फेंक दिया है- बराला

0
0Shares

Bhagat Singh, Yuva Haryana
Palwal, 17 March, 2019

बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने एक बार फिर इनेलो से गठबंधन की चर्चाओं पर विराम लगा दिया है। आज पलवल के हथीन अजान मंडी में आयोजित विजय शंखनाद रैली में पहुंचे बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने कहा कि भाजपा को इनेलो के साथ गठबंधन की जरुरत नहीं है और इनेलो के साथ गठबंधन वाली चिट्ठी को हमने फाड़कर कूड़ेदान में फेंक दिया है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा ने देश में साफ स्वच्छ व सुथरी सरकार देने का कार्य किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में लोकतंत्र को मजबूत करने का कार्य किया गया है। मुख्यमंत्री मनोहरलाल के नेतृत्व में निष्पक्षता,पारदर्शिता और योग्यता के आधार पर नौकरी प्रदान की गई है।

उन्होने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस, इनेलो की सरकार बनने के बाद क्षेत्रवाद की राजनीति की जाती थी। क्षेत्रवाद को लेकर विकास कार्य किए जाते थे और भाई भतीजावाद को ध्यान में रखकर नौकरी प्रदान की जाती थी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने सभी वर्गो के हितों को ध्यान में रखते हुए विकास कार्य किए है। किसानों के हित में अनेक जनकल्याणकारी योजनाऐं बनाई है।

भाजपा सरकार में किसानों को फसलों को लाभकारी मूल्य प्रदान किया गया है। भावांतर भरपाई योजना के अंर्तगत किसानों को फसलों का लागत मूल्य भी प्रदान किया गया है। मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल के माध्यम से किसानों की फसल को सरकारी मूल्य से अधिक रेटों पर खरीदा जाएगा। भाजपा सरकार में किसानों को फसलों का मुआवजा प्रदान किया गया है। भूमि अधिग्रहण की एवज में किसानों को जमीन का उचित मुआवजा दिया गया है। बराला ने कहा कि केंद्र सरकार व प्रदेश सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यो के आधार पर लोकसभा चुनावों में भाजपा सरकार को भारी बहुमत हांसिल होगा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दोबारा से प्रधानमंत्री बनेगें।

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

हरियाणा में कोरोना ने आज तोड़े सारे रिकॉर्ड, 300 से ज्यादा केस, देखें मेडिकल बुलेटिन

Yuva Haryana, Chandigarh ये भी पढ़िय…