शादी के 12 घंटे भी नहीं हुए पूरे, दुल्हन को मारपीट कर निकाला घर से बाहर

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Bhiwani, 22 April, 2018

हमारा देश आज कितना ही आगे क्यों न बढ़ जाए, चाहे पढ़ाई- लिखाई से लेकर खेल- कूद हो। हर चीज में देश का नाम चमक रहा है, पर फिर भी क्यों लोगों की सोच नहीं बदल रही ?

क्या आज भी कुछ लोगों के लिए दहेज इतना मायने रखता है कि उन्हें अपने सामने सही और गलत की पहचान नहीं होती। ये तो हम सबके लिए बेहद शर्म की बात है, अगर हमारी बेटियों के साथ दहेज के लिए इस तरह का दुर्व्यवहार किया जा रहा है।

ऐसा ही कुछ भिवानी के गांव खरक कलां में हुआ, जहां एक दुल्हन को शादी के 12 घंटे भी नहीं बीते थे, कि ससुराल वालों ने उसे और उसके भाई को को मारपीट कर घर से निकाल दिया।

इसके साथ ही दुल्हन के मायके में फोन करके ये भी कह दिया कि ये हमारे लायक नहीं हैं। घायल दुल्हन व उसके भाई को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

जब इस मामले को लेकर गांव की पंचायत पहुंची तो पंचायत के साथ भी अभद्र व्यवहार किया। गांव खरक कलां के सरपंच अनिल ने बताया कि पूनम के माता- पिता की मौत हो चुकी है। मां- बाप की मौत के बाद पूनम की उसके रिश्तेदारों ने मिलकर उसकी शादी की थी। शादी में परिवार वालों ने अपनी हैसियत के हिसाब से ही दान- दहेज दिया था।

पूनम की शादी रोहतक के चिड़ी गांव निवासी युवक के साथ हुई थी। उसे ससुराल वाले देर रात करीब 2 बजे खुशी- खुशी लेकर चले गए। उसके साथ दुल्हन का भाई बिटू भी गया। अगली सुबह पूनम के ससुराल से फोन आया कि तुम इसे ले जाओ, ये हमारे लायक नहीं हैं।

दुल्हन के भाई बिटू ने आरोप लगाया कि बहन के ससुराल वालों ने सुबह ही पूनम को धमकाना शुरू कर दिया। उन्होंने कहा कि दहेज में कुछ भी लेकर नहीं आए, अगर हम कहीं और शादी करते तो अच्छा दहेज मिलता। दुल्हन भी मंदबुद्धी व सांवली है। ये हमारे बेटे के लायक नहीं हैं, इसे हम नहीं रख सकते।

आरोप है कि ससुराल वालों ने उसकी बहने के 3-4 ताले के सोने- चांदी के गहने भी छीन लिए। इसके बाद उसके पति, जेठ- जेठानी सहित 5-6 लोगों ने उनके साथ झगड़ा किया और मारपीट करके घर से बाहर निकाल दिया।

फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *