एक मोर्चे पर हारे हैं, युद्ध नहीं हारे हैं- भूपेंद्र सिंह हुड्डा

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana
Sonipat, 02 June, 2019

पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिह हुड्डा ने कहा कि हाल ही लोकसभा चुनाव में यह समझो कि हम केवल एक मोर्चे पर हारे हैं,युद्ध नहीं हारे। युद्ध आगामी विधानसभा चुनाव में होगा और स्थानीय मुद्दों पर होगा। पूर्व सीएम हुड्डा रविवार को यहां उत्तम पलैस में सोनीपत संसदीय क्षेत्र के तहत आने वाले जींद,जुलाना व सफीदों विधानसभा क्षेत्रों के कांग्रेस कार्यकर्ताओं की संयुक्त बैठक को संबोधित कर रहे थे। लोकसभा चुनाव में की गई मेहनत पर पार्टी कार्यकर्ताओं की आभार जताते हुए हुड्डा ने कहा कि वो अब ऊपर नीचे की परवाह छोड़कर विधानसभा चुनाव की तैयारी करें। कार्यकर्ताओं को हाल के नतीजों से मायुस होने की जरूरत नहीं है। सब संगठित हो,भाईचारा मजबूत करें और बूथ पर मजबूती से लड़ाई लडऩे की कार्ययोजना बनाएं। भीषण गर्मी में भी कार्यकर्ताओं व नये जुड़े साथियों ने पूरी मेहनत से काम किया,परन्तु पूरे देश में यह अजीब किस्म का चुनाव था,पूरे देश में ऐसी हवा चली कि जिन उम्मीदवारों ने अपने क्षेत्र के लोगों के लिए कभी कुछ नहीं किया वो भी चुनाव जीत गये। हुड्डा ने बड़ी बड़ी ढींगे हांकने वाले भाजपा नेताओं को सायराना अंदाज में कहा कि इतना भी गुमान ना कर अपनी जीत पर, ऐ बेखबर शहर में तेरी जीत से ज्यादा मेरी हार के चर्चे हैं।

हुड्डा ने कहा कि कुछ लोग ये चर्चो करते हैं कि मैं केवल सोनीपत और जींद का चुनाव लडऩे के लिए आया,मैं उन लोगों को साफ बता देना चाहता हूं कि मेरी जहां भी जरूरत होगी,हमेशा जींद और सोनीपत के लिए खड़ा मिलूंगा। हैं कुछ लोग,जो मुंह फेर लेते हैं,जो मुंह फेर लेते हैं,पर मैं ऐसा नहीं करूंगा। मैं पुराने व नये सब साथियों के सुख दुख में शामिल रहूंगा। हुड्डा ने कहा कि भाजपा केवल हमारे सदियों पूराने भाईचारे को खंडित करने का काम किया है। जनता की भलाई का कोइ काम नहीं किया। प्रदेश की भाजपा सरकार प्रकाश सिंह कमेटी की रिपोर्ट को दबाये बैठी है। जिस दिन यह रिपोर्ट बाहर आयेगी,सच्चाई बाहर आ जाएगी और यह स्पष्ट हो जाएगा कि हरियाणा में आरक्षण के नाम पर जो बवाल हुआ,उसमें सीधे तौर पर भाजपा सरकार का हाथ था।

बाद में पत्रकारों से बातचीत करते हुए भाजपा छदम राष्ट्रवाद के नाम और शहीदों का राजनीतिकरण कर लोगों को गुमराह करके लोकसभा चुनाव जीती हैे। लेकिन हरियाणा में विधानसभा चुनाव में स्थानीय मुद्दे प्रभावित रहेंगे। कांग्रेस पार्टी अपने 10 वर्ष के शासनकाल की उपलब्धियों और भाजपा की खट्टर सरकार की 5 वर्ष की नाकामियों को मुद्दा बनाकर चुनाव मैदान उतरेगी और जीत हासिल करेगी। हुड्डा ने प्रदेश कांग्रेस की गुटबाजी का नकारते हुए कहा कि सभी कांग्रेसी एकजुट हैं। बेशक संगठन में हलकाध्यक्ष व जिलाध्यक्षों की नियुक्यिां ना हुई हों, लेकिन कांग्रेस का हर कार्यकर्ता मजबूत है।

हुड्डा ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार पेपर लीक सरकार है। उनके पास 10 ऐसे प्रमाण भी हैं,जो सरकार की कथित पारदर्शिता को बेनकाब करते हैं। वे शीघ्र ही इन प्रमाणों को चंडीगढ में जाकर उजागर भी करेंगे। हुड्डा ने कहा कि हरियाणा में 1966 से लेकर 2014 तक भी इतने लोग सरकार की गोली का शिकार नहीं हुए,जितने भाजपा के चार वर्ष के शासन काल में हुए हैं। प्रदेश की जनता यह सब जानती और विधानसभा चुनाव में भाजपा को इस जरूर अहसास भी करायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *