रेवाड़ीः बीएसएफ के खाने पर सवाल उठाने वाले तेज बहादुर के बेटे की गोली लगने से संदिग्ध मौत

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Rewari, 18 Jan,2019

बीएसएफ में खराब खाने को लेकर सोशल मीडिया पर सवाल उठाने वाले जवान तेज बहादुर यादव के बेटे रोहित की गुरुवार देर शाम को गोली लगने से संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई।

महेंद्रगढ़ जिले के राता गांव निवासी बीएसएफ जवान तेज बहादुर अपने परिवार के साथ रेवाड़ी की सरस्वती विहार कॉलोनी में रहते हैं। तेज बहादुर सिंह इस  समय इलाहाबाद में चल रहे कुंभ मेले में गए हुए हैं, जबकि उनकी पत्नी एक निजी कंपनी में कार्यरत है।

तेज बहादुर सिंह का 21वर्षीय पुत्र रोहित कुमार दिल्ली विश्वविद्यालय में बीए प्रथम वर्ष का छात्र था। रोहित दो दिन पहले ही अपने घर आया था और उसकी मां शर्मिला देवी कंपनी में ड्यूटी पर गई हुई थी। जब शाम को करीब पौने सात बजे वह घर पहुंची तो रोहित का कमरा अंदर से बंद मिला। उन्होंने रोहित को आवाज दी तो उसने कमरा नहीं खोला।

इसके बाद उन्होंने अपने पड़ोसियों को बुलाया। इसके बाद भी कमरा नहीं खोला तो मामले की सूचना मॉडल टाउन थाना पुलिस को दी गई। सूचना मिलने के बाद मॉडल टाउन थाना प्रभारी बिजेंद्र सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और कमरे का दरवाजा तोड़ा गया।

पुलिस ने बताया कि जब कमरे का दरवाजा तोड़ा गया तो रोहित का गोली लगा शव बेड पर पड़ा हुआ था और पास ही रिवाल्वर पड़ी हुई थी। इसके बाद पुलिस ने रिवाल्वर को कब्जे में लेने के साथ उसके शव को भी कब्जे में ले लिया। पुलिस ने बताया कि गोली सिर में लगकर आर-पार हुई है।

मॉडल टाउन थाना प्रभारी बिजेंद्र सिंह ने कहा कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि रिवाल्वर लाइसेंसी है अथवा अवैध इसकी जांच की जा रही है। फिलहाल मामले को देखते हुए पुलिस ने आत्महत्या की आशंका से भी इंकार नहीं किया है। हालांकि रोहित की मां ने आत्महत्या से इंकार किया है।

महेंद्रगढ़ जिले के राता गांव निवासी बीएसएफ जवान तेज बहादुर उस समय चर्चा में आए थे जब उन्होंने जनवरी 2017 में खाने को लेकर सोशल मीडिया पर वीडियो डाला था। इसके बाद अप्रैल माह में बीएसएफ ने उनको अनुशासन हीनता का दोषी मानते हुए बर्खास्त कर दिया था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *