इंटरनेट की मदद से 10 साल बाद महिला मिली अपने परिवार से

Breaking चर्चा में दुनिया देश बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

आपने हमेशा सोशल मीडिआ की मदद से अपराध के मामले ही देखे होंगे लेकिन एक ऐसा मामले सामने आया है जहां एक युवती को फेसबुक की मदद से 10 साल से बिछड़ा हुआ परिवार मिल गया  बतादें की युवती  मंजू उत्तर प्रदेश की रहने वाली है, जो 10 साल पहले खेतों में भेड़ चराने गई थी। भेड़ों ने किसी के खेत में घुसकर नुक्सान कर दिया। जिसकी शिकायत युवती की मां को दी। शिकायत मिलने पर मां ने मंजू को जमकर पीटा तो मंजू घर छोड़कर निकल गई और दिल्ली जाने वाली ट्रेन में जा बैठी।

इस दौरान मंजू रोहतक पहुंच गई, जहां उसकी शादी लाधोत  गांव के रहने वाले जोगेंद्र से कर दी गई। अब मंजू व जोगेंद्र के एक लड़का व लड़की भी हैं। मंजू को केवल अपने गांव का नाम याद था। देव ने गांव के नाम को इंटरनेट पर सर्च कर गांव के सरपंच का नंबर ले लिया और उसके बाद मंजू के पिता राजमन और मां किशन कुमारी की विडियो काॅलिंग से बात करवाई तो मंजू ने अपने मां बाप को पहचान लिया और दोनों ओर से आंसू रूकने का नाम नहीं ले रहे थे।

जिसके बाद मंजू के माता पिता रोहतक पहुंचे और अपनी बेटी से मुलाकात की। जैसे ही आमने सामने हुए तो एक दूसरे के गले लग गए। अपने मां बाप को दोबारा मिलाने के लिए मंजू देवा का धन्यवाद देते हुए नहीं थक रही है। पिता राजमन और मां किशन कुमारी बेटी से मिलकर काफी खुश हैं। लेकिन अगर देव कौशिक रक्षा बंधन से पहले मंजू से यह नहीं पुछता कि भाभी मायके नहीं जा रही तो शायद मंजू को अपने माता-पिता से ना मिल पाती।

वहीं पति जोगेंद्र का कहना है कि अगर मोबाइल व इंटरनेट नहीं होता तो शायद यह संभव नहीं होता। वे भी बहुत खुश हैं कि उनकी पत्नी को मायके वाले मिल गए। और साथ ही अब मायके वालों का कहना है की अब वह मंजू को अपने घर लेकर जायेंगे और दुल्हन की तरह सजा कर ही वापस ससुराल भेजेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *