भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने रची थी मेरे परिवार को जिंदा जलाने की साजिश- कैप्टन अभिमन्यु

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 14 July, 2018

रोहतक में फरवरी 2016 में जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु के घर आगजनी मामले में सीबीआई की तरफ से दाखिल चार्जशीट को पर वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु का बयान सामने आया है। वित्तमंत्री ने कहा कि चार्जशीट में सामने आया है  कि सत्ता पलटने और कुर्सी जाने की वजह से हिंसा फैलाई गई थी।

वित्तमंत्री ने बताया कि जिस प्रकार से सीबीआई की चार्जशीट को लेकर खबरें छपी है उनसे साफ है कि दंगे सुनियोजित तरीके से हुए थे। समाचार पत्रों में चार्जशीट से जुड़ी खबरों के मुताबिक एक राजनीतिक दल की यह पूरी साजिश थी। वित्तमंत्री ने सीधे तौर पर हुड्डा का नाम लेते हुए कहा कि चार्जशीट में सामने आए नामों में पूर्व सीएम हुड्डा से जुड़े लोग शामिल हैं। उन्होने कहाकि मेरे परिवार को जिंदा जलाने की साजिश भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने रची थी।

सीबीआई ने वित्तमंत्री के घर आगजनी मामले में 30 जून 2018 को कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की थी जिसमें 51 लोगों को आरोपी बनाया गया है। इस चार्जशीट में हुड्डा के करीबियों के नाम भी शामिल हैं। फरवरी 2016 में जाट आरक्षण आंदोलन की आड़ में हिंसा और आगजनी में 32 लोगों की मौत हुई थी। वित्तमंत्री ने कहा कि 32 लोगों की मौत हुई साथ ही मेरे परिवार को भी जान से मारने की कोशिश की गई थी।

वित्तमंत्री ने कहा कि इस आंदोलन में जाट आरक्षण का कोई लेना देना नहीं था बल्कि सीधे तौर पर पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा जिम्मेदार हैं। हुड्डा से जुड़े लोगों ने ही इस दौरान दंगे फैलाए थे । वित्तमंत्री ने कहा कि इस हिंसा और कुकृत्य के पीछे राजनीतिक लोग थे और जिनके स्वार्थ इससे जुड़े हुए थे।

इन दंगों में चार्जशीट में हुड्डा के करीबी कृष्णमूर्ति हुड्डा के बेटे गौरव हुड्डा, अशोक बल्हारा समेत तमाम ऐसे लोग हैं । और हिंसा को सुनियोजित तरीके से किया गया था। वित्तमंत्री ने कहा कि मैं इस मामले में किसी द्वेष भावना से नहीं बल्कि समाज के भाईचारे के तोड़ने वालों की सच्चाई युवा पीढ़ी और सभी के सामने आनी चाहिए  जिससे समाज और भाईचारे को मजबूती मिलेगी ।

कैप्टन ने कहा मेरा आवास और परिवार पहले से ही निशाने पर था चूंकि चार्जशीट में ऑडियो टेप में इसका जिक्र हुआ है और जब किसी तरह की कोई हिंसा भी नहीं थी उसके बावजूद पहले से ही स्क्रिप्ट तैयार की जा चुकी थी, वित्तमंत्री ने कहा कि परमपिता परमेश्वर सभी का भला करें मुझे व्यक्तिगत तौर पर किसी से कोई द्वेष नही है लेकिन सच सामने आना चाहिए।

यह खबर भी पढ़ें>>>>

कैसे और किस किस ने फूंका था कैप्टन अभिमन्यु का घर, CBI की चार्जशीट में 51 आरोपियों का लेखाजोखा, पढ़िये पूरी चार्जशीट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *